MP Board Class 8th Maths Solutions Chapter 12 Exponents and Powers Ex 12.1

MP Board Class 8th Maths Solutions Chapter 12 Exponents and Powers Ex 12.1

MP Board Class 8 Maths Chapter 12 Question 1.
Evaluate
(i) 3-2
(ii) (-4)-2
(iii) \(\)
Solution:
MP Board Class 8th Maths Solutions Chapter 12 Exponents and Powers Ex 12.1 1

MP Board Solutions

Practice Set 12.1 Class 8 Question 2.
Simplify and express the result in power notation with positive exponent.
MP Board Class 8th Maths Solutions Chapter 12 Exponents and Powers Ex 12.1 2
Solution:
MP Board Class 8th Maths Solutions Chapter 12 Exponents and Powers Ex 12.1 50
MP Board Class 8th Maths Solutions Chapter 12 Exponents and Powers Ex 12.1 3
MP Board Class 8th Maths Solutions Chapter 12 Exponents and Powers Ex 12.1 4

MP Board Solutions

Exponents And Powers Class 8 Question 3.
Find the value of
(i) (30 + 4-1) × 22
(ii) (2-1 × 4-1) ÷ 2-2
(iii) \(\left(\frac{1}{2}\right)^{-2}+\left(\frac{1}{3}\right)^{-2}+\left(\frac{1}{4}\right)^{-2}\)
MP Board Class 8th Maths Solutions Chapter 12 Exponents and Powers Ex 12.1 5
Solution:
MP Board Class 8th Maths Solutions Chapter 12 Exponents and Powers Ex 12.1 6
MP Board Class 8th Maths Solutions Chapter 12 Exponents and Powers Ex 12.1 7

MP Board Class 8 English Chapter 12 Question 4.
Evaluate
MP Board Class 8th Maths Solutions Chapter 12 Exponents and Powers Ex 12.1 9
Solution:
MP Board Class 8th Maths Solutions Chapter 12 Exponents and Powers Ex 12.1 10
MP Board Class 8th Maths Solutions Chapter 12 Exponents and Powers Ex 12.1 11

MP Board Solutions

MP Board Class 8 Maths Chapter 12 Factorisation Question 5.
Find the value of m for which 5m ÷ 5-3 = 55.
Solution:
We have, 5m ÷ 5-3 = 55
⇒ 5m-(-3) = 55 [∵ am + an =am + n]
⇒ 5m + 3 = 55
⇒ m + 3 = 5 [∵ am = an ⇒ m = n]
⇒ m = 5 – 3 = 2

MP Board Solutions

Class 8 Chapter 12 Exercise 12.1 Question 6.
Evaluate
MP Board Class 8th Maths Solutions Chapter 12 Exponents and Powers Ex 12.1 12
Solution:
MP Board Class 8th Maths Solutions Chapter 12 Exponents and Powers Ex 12.1 13

Chapter 12 Maths Class 8 Hindi Medium Solutions Question 7.
Simplify.
MP Board Class 8th Maths Solutions Chapter 12 Exponents and Powers Ex 12.1 14
Solution:
MP Board Class 8th Maths Solutions Chapter 12 Exponents and Powers Ex 12.1 15
MP Board Class 8th Maths Solutions Chapter 12 Exponents and Powers Ex 12.1 16

MP Board Class 8th Maths Solutions

MP Board Class 6th Hindi Bhasha Bharti विविध प्रश्नावली 2

MP Board Class 6th Hindi Bhasha Bharti Solutions विविध प्रश्नावली 2

Class 6 Hindi Vividh Prashnavali 2 प्रश्न 1.
सही विकल्प चुनकर लिखिए-

(क) 13 वर्ष की आयु में 1300 (तेरह सौ) पंक्तियों की मर्मस्पर्शी कविता लिखी थी
(i) अहिल्याबाई ने,
(ii) सरोजनी नायडू ने,
(iii) तारा दत्त ने,
(iv) लक्ष्मीबाई ने।।
उत्तर-
(ii) सरोजनी नायडू ने,

(ख) भाभा अणु-शक्ति अनुसन्धान केन्द्र स्थित है
(i) भोपाल में,
(ii) हैदराबाद में
(iii) जिनेवा में,
(iv) ट्रॉम्बे में।
उत्तर-
(iv) ट्रॉम्बे में,

MP Board Solutions

(ग) पृथ्वी पर रहने वाले जीव कहलाते हैं
(i) नभचर,
(ii) जलचर,
(iii) थलचर,
(iv) उभयचर।
उत्तर-
(iii) थलचर,

(घ) महात्मा गाँधी ने आकाश तत्व को संज्ञा दी है
(i) निर्मल आकाश,
(ii) आरोग्य सम्राट,
(iii) प्रसिद्ध विचारक,
(iv) स्वास्थ्य विशेषज्ञ।
उत्तर-
(ii) आरोग्य सम्राट।

Mirabai Ne Apne Pati Ki Kya Nishani Batai Hai प्रश्न 2.
रिक्त स्थानों की पूर्ति कीजिए

(क) बीमारी का निदान कराने के बजाय बीमार न पड़ना ही ………………………………. है।
(ख) अकबर ने तानसेन को ………………………………. राग सुनाने का आदेश दिया।
(ग) डॉ. भाभा को भारत सरकार ………………………………. द्वारा पद्वी से अलंकृत किया।
(घ) बूढ़े ……………………………….” में भी आई फिर से नई जवानी थी।
(ङ) जो दिल खोजा आपना ……………………………….” बुरा न कोय।
उत्तर-
(क) बुद्धिमता,
(ख) दीपक,
(ग) पद्म भूषण,
(घ) भारत,
(ङ) मुझसे।

Prithvi Per Rahane Wale Jeev Kahlate Hain प्रश्न 3.
निम्नलिखित प्रश्नों के उत्तर संक्षेप में लिखिए

(क) सूर्य की किरणें हमारे शरीर में किस विटामिन की वृद्धि करती हैं?
उत्तर-
सूर्य की किरणें हमारे शरीर में विटामिन-डी की वृद्धि करती हैं।

(ख) मीराबाई ने अपने पति की क्या निशानी बताई है?
उत्तर-
मीराबाई ने अपने पति की निशानी बताई है कि वह अपने सिर पर मोर-मुकुट धारण करता है।

(ग) बसन्त के स्वागत में कौन गाती थी?
उत्तर-
बसन्त के स्वागत में कोयल गाती थी।

(घ) राग मेघ मल्हार से आप क्या समझते हैं?
उत्तर-
वर्षा ऋतु में गाया जाने वाला राग जो बादलों को आमन्त्रित करता है।

(ङ) झाँसी की रानी की कहानी हमने किसके मुँह से सुनी है?
उत्तर-
झाँसी की रानी की कहानी हमने बुन्देलखण्ड के हरबोलों के मुख से सुनी है।

MP Board Solutions

Kaksha 6 Prashnawali प्रश्न 4.
निम्नलिखित प्रश्नों के उत्तर तीन से पाँच वाक्यों में लिखिए

(क) अकबर ने स्वामी हरिदास के गायन की प्रशंसा में क्या कहा?
उत्तर-
अकबर ने स्वामी हरिदास के गायन को सुनने के लिए सेवक का वेष धारण किया। सम्राट् उनके आश्रम में पहुंचा। संगीत से भाव-विभोर हुआ तथा इस तरह उनका संगीत सुनकर मुक्त कण्ठ से प्रशंसा करते हुए कहा कि स्वामी जी आपका संगीत सचमुच ही जन्नत का संगीत है।

(ख) रानी लक्ष्मीबाई का बचपन कैसा बीता?
उत्तर-
रानी लक्ष्मीबाई का बचपन बहुत अच्छे वातावरण में बीता। उनका बचपन का नाम छबीली था। वे अपने पिता की इकलौती सन्तान थीं। वह नाना साहब के साथ ही पढ़ती थीं और खेल भी उनके साथ खेलती थीं। बरछी, ढाल, तलवार और कटारों से खेलना उनका प्रिय खेल था। वे बड़ी साहसी थीं। उन्होंने अपने बचपन में ही वीर शिवाजी की वीरता से भरी कहानियाँ याद की हुई थीं।

(ग) कबीर ने कमाल को क्या सीख दी है?
उत्तर-
कबीर ने अपने पुत्र कमाल को यह शिक्षा (सीख) दी है कि उसे ईश्वर की भक्ति करनी चाहिए। साथ ही, जो व्यक्ति दीन और भूखा हो, उसे भिक्षा देनी चाहिए (उसे भोजन आदि करा देना चाहिए)। भूख से पीड़ित व्यक्ति को भोजन देने से बढ़ कर कोई पुण्य नहीं होता है।

(घ) रहीम के अनुसार सच्चे मित्र की क्या पहचान है?
उत्तर-
रहीम के अनुसार सुख-सम्पत्ति के समय में बहुत से लोग अनेक प्रकार से सगे-सम्बन्धी बन जाते हैं। लेकिन विपत्ति रूपी कसौटी पर कसे जाने पर ही सच्चे मित्र की पहचान होती है। शुद्ध सोने की परख कसौटी पर घिसकर की जाती है। उसी तरह सच्चे मित्र की पहचान भी उस समय होती है जब वह किसी की सहायता विपत्ति काल में करने को तत्पर रहता है।

Kaksha Chhathvin Vishay Hindi प्रश्न 5.
निम्नलिखित पंक्तियों का भाव स्पष्ट कीजिए
(क) अँसुअन जल सींच-सींच, प्रेम-बेलि बोई।
अब तो बेलि फैल गई आनन्द फल होई।।
(ख) अभी उम्र कुल तेईस की थी, मनुज नहीं अवतारी थी।
(ग) हरे भरे जंगल सब तुमने तो काट दिए,
घर मेरा उजाड़कर अपनों में बाँट दिए।
(घ) रहिमन चुप द्वै बैठिए, देखि दिनन के फेर।
जब नीके दिन आई हैं, बनत न लगिहैं बेर॥
उत्तर-
(क) शब्दार्थ-आपनों = अपना। छाँड़ि दई = छोड़ दी। कुल = परिवार। कानि = इज्जत, कुल मर्यादा। ढिंग = पास। खोई – मिटा दी। लाज = शर्म, लज्जा। चूनरी = चूंदरी, चादर। लोई = लोई नामक वस्त्र जिसे प्रायः त्यागी, साधु-सन्त ओढ़ते हैं। वन-माला = वन के फूल और पत्तियों की माला। पोई = पिरो कर। प्रेम बेलि = प्रेम की लता। होई = लग रहे हैं। मथनियाँ = मथानी, रई। बिलोई = दही मथने का काम किया। जतन से = प्रयत्न से। काढ़ि लियो = निकाल लिया। छाछ = मट्ठा। पियो कोई = कोई भी पीता रहे। राजी भई = प्रसन्न हुई। जगत देखि रोई = संसार के बन्धनों को देखकर दुःखी होने लगी। तारो = उद्धार करो। मोही = मेरा, या मुझे।

सन्दर्भ-प्रस्तुत पद ‘पद और दोहे’ नामक पाठ से लिया गया है। यह पद मीराबाई की रचना है।

प्रसंग-मीरा ने स्वयं को श्रीकृष्ण की भक्ति में लीन कर दिया है। वह चाहती है कि उसके इष्ट भगवान कृष्ण उसका भवसागर से उद्धार कर दें।

व्याख्या-मीराबाई कहती है कि मेरे प्रभु, तो गोवर्धन पर्वत को धारण करने वाले, गौ का पालन करने वाले श्रीकृष्ण हैं। उनके अतिरिक्त मेरा कोई अन्य प्रभु नहीं है। अपने सिर पर जो मोर-मुकुट धारण करते हैं, वही मेरे पति हैं। माता-पिता, भाई-बन्धु (सरो सम्बन्धी) अपने तो कोई भी नहीं हैं। मैंने कुल मर्यादा छोड़ दी है, मेरा कोई क्या कर सकेगा। साधु-सन्तों की संगति में बैठना शुरू कर दिया है, मैंने लोक-लाज भी खो दी है। प्रतिष्ठित घर की बहू जिस चादर को ओढ़ कर चलती है, उस चादर के मैंने दो टुकड़े कर दिए हैं, (फाड़ दी है)। लोई पहन ली है। मोती-मूंगे धारण करना छोड़ दिया है। वन के फूलों की माला (सहज में प्राप्त फूलों की माला) पिरों कर पहनने लगी हूँ। भगवान श्रीकृष्ण की भक्ति में आँसू बहाते हुए, उनके प्रति प्रेम की बेलि को बोया है और लगातार सींचा है। वह बेलि अब फूलकर फैल चुकी है। उस पर अब तो आनन्द के फल लगने शुरू हो गए हैं। प्रेम की मथानी से प्रयत्नपूर्वक बिलोने पर (अमृत रूपी) सम्पूर्ण घी निकाल लिया है। शेष छाछ (मट्ठा) रह गया है, उसे कोई भी पीता रहे (संसार छोड़ा हुआ मट्ठा है-तत्वहीन पदार्थ है। जो उसे पीना चाहे वह पीता रहे।) मैं प्रभु भक्तों की संगति में आनन्दित हो रही हूँ। संसार को देखकर अत्यधिक दुःखी होती हूँ। मीराबाई वर्णन करती हैं कि मैं तो गिरधर लाल श्रीकृष्ण की दासी हूँ। हे प्रभो ! आप मेरा उद्धार कीजिए।

MP Board Solutions

(ख) शब्दार्थ-सैन्य = सेना। विषम = भयानक। सवार = घुड़सवार सैनिक। वीरगति = युद्ध में बहादुरी से लड़ते हुए मृत्यु को प्राप्त हो जाना।

सन्दर्भ-पूर्व की तरह।

प्रसंग-झाँसी पर जब अंग्रेजों ने आक्रमण किया तो रानी लक्ष्मीबाई ने उनका बड़ी बहादुरी से मुकाबला किया। रानी का घोड़ा कालपी में आकर मर गया तब उन्होंने नया घोड़ा लिया और अंग्रेजों की सेना में मार-काट मचा दी।

व्याख्या-रानी शत्रुओं से घिरी हुई थी किन्तु वह बड़ी वीरता से उन्हें मारकर अपने लिये रास्ता निकाल लेती थी किन्तु, एक नाले के पास घोड़े के अड़ जाने से शत्रुओं ने उसे फिर से घेरने का मौका पा लिया। युद्ध में रानी बुरी तरह घायल हो गई। इस प्रकार वह बहादुर सिंहनी लड़ते-लड़ते वीरगति को प्राप्त हो गई। बुन्देले हरबोले आज भी उसकी गौरव गाथा गाकर बताते हैं कि रानी लक्ष्मीबाई ने बड़ी बहादुरी से युद्ध किया था।

(ग) शब्दार्थ-उजाड़कर = बरबाद करके।

सन्दर्भ-पूर्व की तरह।

प्रसंग-‘बसन्त’ आ गया है, ऐसा क्यों नहीं लगता ? इस प्रश्न का उत्तर बसन्त देता है।

व्याख्या-बसन्त ने उत्तर देते हुए कहा कि मैं कहाँ पर आऊँ, क्योंकि मेरे ठहरने के स्थान हरे-भरे पेड़-पौधे थे, उन सबको तुमने काट दिया है। बताओ तो मैं अब कहाँ ठहरूँ ? हरियाली से परिपूर्ण जंगलों को तुमने काट दिया है। हरे-भरे वन ही मेरे निवास स्थान थे, उन्हें ही काटकर मेरा घर बरबाद कर दिया है। हे मनुष्यो! तुमने ही हरे-भरे वनों को काट कर अपनों में आपस में बाँट लिया है। मेरे लिए तो रहने का स्थान छोड़ा ही नहीं है।

(घ)
(1) रहीम जी कहते हैं कि एक ईश्वर की साधना करने से सब कुछ प्राप्त करने में सफलता मिल जाती है। सब (ईश्वर और संसार) की साधना करने से सब कुछ मिट जाता है। इसलिए मूल (जड़) की सिंचाई करने से वृक्ष पर फूल-फल पूर्ण सन्तुष्ट करने के लिए लगना प्रारम्भ हो जाता है।

(2) रहीम जी सलाह देते हैं कि बड़े लोगों की संगति पाकर छोटे आदमियों का अपमान कभी भी नहीं करना चाहिए। उदाहरण देते हुए कि जो काम (सिलाई आदि) छोटी सी सुई से किया जा सकता है, वही काम तलवार (बड़ी वस्तु) से नहीं किया जा सकता अर्थात् छोटे आदमी ही कभी-कभी महत्वपूर्ण होते हैं।

(3) रहीम जी कहते हैं कि दिनों के परिवर्तन से (समय के बदल जाने पर-विपरीत समय पर) किसी भी कार्य की सिद्धि न हो सकने की दशा में शान्तिपूर्वक बैठ जाना चाहिए। (खराब समय में शान्ति से विचार करने लग जाना चाहिए, अधीर नहीं होना चाहिए) क्योंकि जब अच्छा समय आएगा, तो बात बनते (काम होने में) देर नहीं लगती।

(4) रहीम जी कहते हैं कि जो व्यक्ति अच्छे स्वभाव का होता है, उसके ऊपर बुरी संगति का कोई प्रभाव नहीं पड़ता। देखिए चन्दन के वृक्ष पर अनेक सर्प लिपटे रहते हैं, लेकिन उस वृक्ष पर उन सॉं के जहर का कोई भी प्रभाव नहीं पड़ता। चन्दन वृक्ष शीतलता और शीलवानपन का प्रतीक है।

(5) रहीम जी कहते हैं कि सम्पत्ति काल में बहुत से लोग अनेक तरह से सगे-सम्बन्धी बनने लगते हैं। (परन्तु सच्चे मित्र सिद्ध नहीं होते)। सच्चे मित्र तो वही होते हैं जो विपत्ति रूपी कसौटी पर कसे जाने पर साथ रहते हैं। अर्थात् विपत्ति में जो साथ देते हैं, वे ही सच्चे मित्र होते हैं।

MP Board Solutions

Raag Megh Malhar Se Aap Kya Samajhte Hain प्रश्न 6.
निम्नांकित पंक्तियों का आशय स्पष्ट कीजिए

(क) यह वह मिट्टी है, जहाँ के लोगों ने मानवता की रक्षा के लिए खुशी-खुशी अपने प्राण न्यौछावर कर दिए।
उत्तर-
प्रेरक प्रसंगों से अवतरित इस पंक्ति का आशय यह है कि पुड़िया में दूत द्वारा लाई गई मिट्टी उस स्थान की है, जहाँ के लोगों ने सदैव से मानवता की रक्षा की। साथ ही आवश्यकता पड़ी तो अपनी इच्छा से , प्रसन्नतापूर्वक अपने प्राणों का बलिदान कर दिया। अतः वह मिट्टी बहुत ही महत्वपूर्ण और सम्माननीय है।

(ख) “हम सबके चेहरे पर अभावों की धुन्ध छाई है।”
उत्तर-
‘क्या ऐसा हो सकता है? ‘ से अवतरित इस पंक्ति का आशय यह है कि इस दुनिया में अधिकतर मनुष्यों के चेहरों से यह प्रतीत हो जाता है कि उसके पास किसी न किसी वस्तु की कमी है। हम लोग उस कमी को छिपाने का ढोंग करते हैं, परन्तु उस अभाव की अभिव्यक्ति मनुष्य के चेहरे पर हो ही जाती है। यह अभाव एक धुंधलापन है जो मनुष्य की वास्तविकता को छिपा लेता है।

(ग) “पंचभौतिक शरीर को पंचभौतिक तत्वों से ही स्वस्थ रखा जा सकता है।”
उत्तर-
‘हम बीमार ही क्यों हों? पाठ से ली गई इस पंक्ति का आशय यह है कि हमारे शरीर की रचना पंच भूतों से हुई है।
ये पंचभूत-पाँच तत्व कहे जाते हैं, वे हैं-

  1. पृथ्वी,
  2. जल,
  3. अग्नि,
  4. आकाश,
  5. समीर (वायु)।

इन पाँच भौतिक तत्वों के सम पर रहने से ही इस पंचभूत शरीर को पूर्ण स्वस्थ रखा जा सकता है। किसी भी तत्व के भाग में विषमता आ जाती है, तो हम रोगी हो जाते हैं।

(घ) “राजमहल का सम्मान और नवरत्नों में स्थान मिल जाना सदा सुखकारी नहीं होता।”
उत्तर-
संगीत शिरोमणि स्वामी हरिदास’ पाठ से अवतरित इस पंक्ति का आशय यह है कि किसी भी राजा या शासन द्वारा राज भवन में प्राप्त सम्मान अथवा राज दरबार के प्रमुख ‘नवरत्नों’ में स्थान किसी कारण मिल भी जाता है, परन्तु यह ध्यान रखना होगा कि यह सम्मान सदैव सुख देने वाला नहीं होता है। कभी-कभी इस प्राप्त किए गए सम्मान की परीक्षा देनी होती है। उस परीक्षा में प्राण भी जा सकते हैं, अत: यह उक्ति अक्षरशः सत्य है जिसे स्वामी हरिदास ने अपने शिष्य तानसेन के प्रति कहा है।

भाषा भारती कक्षा 5 Solutions Chapter 12 Mera Naya Bachpan प्रश्न 7.
बसन्त में कौन-कौन से फूल खिलते हैं? सूची बनाइए।
उत्तर-
बसन्त ऋतु में अन्य कई प्रकार के फूलों के साथ-साथ मुख्य रूप से चम्पा, चमेली और गेंदे के फूल खिलते हैं।

Krishna Prashnavali In Hindi प्रश्न 8.
निम्नलिखित अपठित गद्यांश को ध्यानपूर्वक पढ़िए और प्रश्नों के उत्तर दीजिए-
नरेन्द्रनाथ की मुलाकात स्वामी रामकृष्ण परमहंस से हुई। स्वामी जी उच्चकोटि के विचारक व सुधारक थे। उन्होंने बालक की अलौकिक शक्तियों को परखा। नरेन्द्रनाथ ने उनके सामने प्रश्न रखा क्या आपने ईश्वर को देखा है?
उत्तर-
मिला-हाँ, जैसे मैं तुम्हें देख रहा हूँ। स्वामी जी ने अपना हाथ उनके मस्तक पर रखा। स्वामी के वरदहस्त का स्पर्श होते ही नरेन्द्र को एक अलौकिक चेतना की अनुभूति हुई। गुरु ने शिष्य को, शिष्य ने गुरु को पहचाना। यह सत्संग बढ़ता ही गया, परिणाम यह हुआ कि पिता की मृत्यु के बाद नरेन्द्रनाथ ने संन्यास ले लिया। सारा विश्व ही उनके लिए उनका परिवार बन गया। अब वे स्वामी विवेकानन्द बन गए। स्वामी विवेकानन्द को गुरु का आदेश मिला-‘जनसेवा ही प्रभु सेवा है।

MP Board Solutions

उपर्युक्त गद्यांश को पढ़कर निम्नलिखित प्रश्नों के उत्तर दीजिए- .

(i) नरेन्द्रनाथ के गुरु का नाम बताइए।
उत्तर-
नरेन्द्रनाथ के गुरु का नाम ‘स्वामी रामकृष्ण परमहंस’ था।

(ii) स्वामी जी ने गुरु से कौन-सा प्रश्न किया?
उत्तर-
स्वामीजी (विवेकानन्द) ने अपने गुरु के सामने प्रश्न रखा कि क्या उन्होंने ईश्वर को देखा है?’

(iii) विवेकानन्द को गुरु ने क्या आदेश दिया?
उत्तर-
विवेकानन्द को गुरु ने आदेश दिया कि उन्हें जन सेवा करनी चाहिए, क्योंकि जन सेवा ही प्रभु सेवा है। .

(iv) उपर्युक्त गद्यांश का उचित शीर्षक लिखिए।
उत्तर-
उपर्युक्त गद्यांश का उचित शीर्षक ‘स्वामी विवेकानन्द और उनके गुरु’ ही है।

Chhathvin Class प्रश्न 9.
अपने ग्राम की सफाई के लिए ग्राम पंचायत को एक पत्र लिखिए।
अथवा
अपने मित्र को स्वास्थ्य के प्रति सावधान रहने की सलाह देते हुए पत्र लिखिए।
उत्तर-
खण्ड-4 ‘पत्र लेखन’ में देखिए।

Godaliya Se Aap Kya Samajhte Hain प्रश्न 10.
किसी विषय पर 100 शब्दों में निबन्ध लिखिए
(1) गणतन्त्र दिवस,
(2) होली,
(3) पुस्तकालय,
(4) बसन्त ऋतु।
उत्तर-
खण्ड-5 ‘निबन्ध लेखन’ में देखिए।

MP Board Class 6th Hindi Solutions

MP Board Class 7th Hindi Sugam Bharti Solutions Chapter 3 उपहार

In this article, we will share MP Board Class 7th Hindi Solutions Chapter 3 उपहार Pdf, These solutions are solved subject experts from the latest edition books.

MP Board Class 7th Hindi Sugam Bharti Solutions Chapter 3 उपहार

MP Board Class 7th Hindi Sugam Bharti Chapter 3 प्रश्न-अभ्यास

वस्तुनिष्ठ प्रश्न
MP Board Class 7th Hindi Chapter 3 प्रश्न 1.
MP Board Class 7th Hindi Sugam Bharti Solutions Chapter 3 उपहार 1
उत्तर
1. (ख), 2. (ग), 3. (घ), 4. (क)

Class 7 Hindi Chapter 3 MP Board प्रश्न (ख)
दिए गए शब्दों में से उपयुक्त शब्द चुनकर रिक्त स्थानों की पूर्ति कीजिए
1. दीनू राजकुमार को उपहार देने हेतु ……………. लेकर गया। (रोटी खिलौने)
2. दरबार में उपस्थित सभी लोग ……………. कर हंस पड़े। (खिलखिला/ठिलठिला)
3. उपहार के लिए एक रोटी ही ……………. है। (कम/काफी)
4. दीनू घर से …………….. लेकर चला। (उपहार/हार)
उत्तर
1. रोटी
2. खिलखिला
3. काफी
4. उपहार

MP Board Class 7th Hindi Sugam Bharti Chapter 3 अति लघु उत्तरीय प्रश्न

MP Board Solutions

Class 7 Hindi Lesson 3 Question Answer प्रश्न 2.
निम्नलिखित प्रश्नों के उत्तर एक-एक वाक्य में लिखिए

(क) राजा का स्वभाव कैसा था?
उत्तर
राजा दयालु और न्यायप्रिय था। .

(ख) सेठ साहूकारों ने राजा के बेटे को उपहार देने हेतु सुंदर खिलौने किन किन धातुओं से बनवाए थे?
उत्तर
सेठ-साहूकारों ने सोने-चाँदी के सुंदर खिलौने गा सग जीनें नन्नाई।

(ग) उपहार के बहाने दीनू किनको देखना चाहता था?
उत्तर
उपहार के बहाने दीनू राजकुमार और भव्य महल को देखना चाहता था।

(घ) टीनू को राजा ने कितनी जमीन दी?
उत्तर
दीनू को राजा ने दस एकड़ जमीन दी।

(ङ) राज दरबार जाते समय दीनू ने रास्ते में किन-2 लोगों की सहायता की?
उत्तर
दीनू ने रास्ते में भिखारी, कुत्तों और गाय को रोटी देकर मदद की। लघु उत्तरीय प्रश्न

MP Board Solutions

MP Board Class 7th Hindi Sugam Bharti Chapter 3 लघु उत्तरीय प्रश्न

6th Standard Hindi Lesson Uphar Question Answer प्रश्न 3.
निम्नलिखित प्रश्नों के उत्तर तीन से पाँच वाक्यों में लिखिए

(क) जरूरतमंदों को सहायता न मिलने पर राजा क्या करता था?
उत्तर
कभी-कभी उसे लगता कि मेरे कर्मचारी कामचोर हो रहे हैं या जरूरतमंद को सहायता नहीं पहुंचा रहे हैं तो खुद कोई न कोई मुक्ति भिड़ाकर रास्ता निकल लेता था।

(ख) दीनू राज दरबार में जाकर आश्चर्यचकित क्यों हो गया?
उत्तर
राज दरबार में पहुँचकर वह हक्का -बक्का रह गया। वहाँ की भव्यता देखकर उसे अपने कपड़ों और अपनी रोटी पर शर्म आने लगी। बड़े-बड़े लोग सुंदर उपहार लाए थे।

(ग) राजाज्ञा क्या थी?
उत्तर
राजाज्ञा थी कि दस हजार स्वर्ण मुद्राएँ दीनू को दी जाती हैं, साथ ही जीवन भर के लिए इसका और रमके परिवार का भरण-पोषण भी गेजकोष मेटोगा।
इसे राजाज्ञा समझा जाए। इसे दस एकड़ जमीन भी दी जाती है, जिस पर वह खेती करे और जरूरतमंद लोगों को रोटी दे।

(घ) दीनू का उपहार सबसे अच्छा क्यों घोषित किया
उत्तर
राजा ने उसे कुर्सी पर बैठाया और सभी जनों के बीच ऐलान किया कि आज सबसे अच्छा उपहार दीनू लाया है। सोने-चाँदी की हमारे खजाने में भी कमी नहीं है। दीनू जो उपहार घर से लेकर चला था। उसमें से रास्ते में जिन-जिन भूखों की भूख इसने बुझाई है, उनकी दुआएँ भी वह राजकुमार के लिए लाया है, अतः दीनू का उपहार सबसे अच्छा घोषित किया गया। भाषा की बात

MP Board Solutions

भाषा की बात

Class 7 Hindi Chapter 3 Short Answers प्रश्न 4.
निम्नलिखित शब्दों का शुद्ध उच्चारण कीजिए।
जरूरतमंद, सर्वश्रेष्ठ, आशीर्वादों, वृत्तांत, स्वर्ण-मुद्राएँ।
उत्तर
छात्र स्वयं करें।

Class 7 Hindi Chapter 3 प्रश्न 5.
निम्नलिखित शब्दों की वर्तनी शुद्ध कीजिए।
नमसकार, आर्शीवाद, आश्चर्य, हतपिरभ, उपधित, राजकोश।
उत्तर
शुद्ध वर्तनी-नमस्कार, आशीर्वाद, हतप्रभ, उपस्थित, राजकोष।

Class 7th Hindi Sugam Bharti प्रश्न 6.
निम्नलिखित गद्यांश को ध्यान से पढ़िए
“थोड़ी देर बाद वर्षा होने लगी। माँ ने प्रगति से कहा-शोरगुल मत करो, भाई को पढ़ने दो। मैं तुम्हें खाने को अभी फल ला देती हूँ। फल खाकर उसने पानी पी लिया और मां से बोली-मैं बाहर जाना चाहती हूँ।” ऊपर रेखांकित शब्द क्रिया को प्रकट कर रहे हैं। एक वाक्य में दो क्रियाएँ आई हैं। बाद वाली क्रिया पूर्व क्रिया की सहायता कर रही है। ‘होना’ क्रिया वाक्य में ‘होने’ तथा ‘लगना’ क्रिया ‘लगी’ के रूप में आई है। इस प्रकार हम देखते हैं कि जहाँ वाक्य में दो क्रियाएँ इस प्रकार आती हैं जिसमें एक मुख्य तथा दूसरी उसकी सहायक होती है वहाँ ये क्रियाएँ संयुक्त क्रिया कहलाती हैं।

Class 7th Hindi Chapter 3 Meri Vasiyat प्रश्न (क)
निम्नलिखित में से संयुक्त क्रिया वाले वाक्य छाँट कर लिखिए तथा बताइए कि उनमें कौन-कौन सी संयुक्त क्रियाएँ आई हैं?
उत्तर

  1. तुम दूरदर्शन देखते होगे
  2. शीला पढ़ती है
  3. उसका नाम प्रदीप है।
  4. वह दूध पी चुका होगा
  5. अभी हंसने लगेगा।

MP Board Class 7 Hindi Chapter 3 प्रश्न (ख)
संयुक्त क्रिया वाले चार वाक्य बनाकर लिखिए।
उत्तर

  1. कुछ देर के बाद आध्यापक पढ़ाने लगे
  2. पिताजी तुम्हें खाने को अभी आइसक्रीम ला देते हैं।
  3. हम आपकी सेवा करना चाहते हैं।
  4. राम को हसने दो

MP Board Solutions

Sugam Vigyan Class 7 Chapter 3 Question Answer प्रश्न 7.
निम्नलिखित योजक चिह वाले शब्दों को बाक्यों में प्रयोग कीजिए
कभी-कभी, बड़े-बड़े, सुंदर-सुंदर, चलते-चलते, दो-दो।
उत्तर
योजक चिंह वाले शब्द

  1. कभी-कभी = पिताजी कभी-कभी बहुत याद आते हैं।
  2. बड़े-बड़े = दक्षिण भारत में बड़े-बड़े मंदिर हैं।
  3. सुंदर-सुंदर = उनके बड़े सुंदर-सुंदर बच्चे हैं
  4. चलते-चलते= अब हमारा ग्रूप चलते-चलते थक चुका है।
  5. दो-दो = अब तुम दो-दो करके आ सकते

उपहार पाठ का परिचय

प्रस्तुत कहानी के माध्यम से कहानीकार ने दयालुता और न्यायप्रियता को उजागर किया है। राजा ने घोषणा में कहा कि राजकुमार के जन्मदिन पर श्रेष्ठतम उपहार लाने वाले को इनाम दिया जाएगा। गरीब दीनू भी कुछ रोटियां लेकर राजा से मिलने निकला। रास्ते में उसने कुछ भूखों और जरुरतमंदों को एक रोटी छोड़कर सारी रोटियां खिला दी। जब राजा ने उससे केवल एक रोटी लाने का कारण पूछा तो उसने सारा किस्सा कह सुनाया। राजा उसकी इमानदारी और नेकदिली पर प्रसन्न हुआ और उसे इनाम प्रदान किया।

उपहार संदर्भ-प्रसंग सहित व्याख्या

1. पूरे राज्य में ….. कौन पूछेगा?”

शब्दार्थ-सर्वश्रेष्ठ सबसे अच्छा।

संदर्भ-प्रस्तुत पंक्तियाँ हमारी पाठ्य-पुस्तक ‘सुगम भारती’ (हिंदी सामान्य) भाग-7 के पाठ-9 ‘उपहार’ कहानी से ली गई हैं। इसके रचयिता प्रेमकोमल बृदिया हैं।

प्रसंग-इसमें दीनू महल में जाने के लिए रोटियाँ बनवाता है।

व्याख्या-इनाम की घोषणा सुनते ही सभी लोग

सुंदर-सुंदर खिलौने और कपड़े बनवाने लगे। सभी इनाम की होड़ में तरह-तरह के तोहफे तैयार करने लगे। इधर गरीब दीनू के पास रोटियों के

विशेष-गरीब दीनू भी उपहार में रोटियाँ लेकर गए।

2. राजा ने उसे …………………… आश्चर्यचकित थे।

शब्दार्थ-ऐलान घोषणा, हतप्रभ आश्चर्यचकित

संदर्भ-पूर्ववत्। प्रसंग-राजा ने दीनू को स्वर्ण-मुद्राएँ इनाम में दी।

व्याख्या-राजा ने दीनू की सदाचारी और पवित्र हृदय देख उसे कुर्सी पर बैठाते हुए घोषणा की कि सबसे श्रेष्ठ उपहार दीनू का है इसलिए उसे ईनाम में दस हजार स्वर्ण मुद्राएँ दी जाती हैं, साथ ही जीवन भर के लिए इसका और इसके परिवार का भरण-पोषण भी राजकोष से होगा। सभा में सभी हैरान थे।

MP Board Class 7th Hindi Solutions

MP Board Class 7th Science Solutions Chapter 11 जंतुओं और पादप में परिवहन

MP Board Class 7th Science Solutions Chapter 11 जंतुओं और पादप में परिवहन

MP Board Class 7th Science Chapter 11 पाठान्त अभ्यास के प्रश्नोत्तर

Jantu Aur Padap Mein Parivahan प्रश्न 1.
कॉलम A में दी गई संरचनाओं का कॉलम B में दिए गए प्रक्रमों से मिलान कीजिए –
MP Board Class 7th Science Solutions Chapter 11 जंतुओं और पादप में परिवहन 1
उत्तर:
(क) → (ii)
(ख) → (iv)
(ग) → (i)
(घ) → (iii)

11 जंतुओं और पादप में परिवहन प्रश्न 2.
रिक्त स्थानों की पूर्ति कीजिए –

  1. हृदय से रक्त का शरीर के सभी अंगों में परिवहन के …. द्वारा होता है।
  2. हीमोग्लोबिन …… कोशिकाओं में पाया जाता है।
  3. धमनियाँ और शिराएँ ………. के जाल द्वारा जुड़ी रहती हैं।
  4. हृदय का लयबद्ध विस्तार और संकुचन ……….. कहलाता है।
  5. मानव शरीर के प्रमुख उत्सर्जित उत्पाद ……………. है।
  6. पसीने में जल और ………. होता है।
  7. वृक्क अपशिष्ट पदार्थों को द्रव रूप में बाहर निकालते हैं, जिसे हम …………. कहते हैं।
  8. वृक्षों में बहुत अधिक ऊँचाइयों तक जल पहुँचाने के कार्य में द्वारा ……….. उत्पन्न चूषण अभिकर्षण बल सहायता करता है।

उत्तर:

  1. धमनियों।
  2. लाल रक्त।
  3. कोशिकाओं।
  4. हृदय स्पंदन।
  5. मूत्र।
  6. लवण।
  7. यूरिया।
  8. वाष्पोत्सर्जन।

MP Board Solutions

कक्षा 7 विज्ञान पाठ 11 के प्रश्न उत्तर प्रश्न 3.
सही विकल्प का चयन करिए :
(क) पादपों में जल का परिवहन होता है –

  1. जाइलम के द्वारा।
  2. फ्लोएम के द्वारा
  3. रन्ध्रों के द्वारा।
  4. मूल रोमों के द्वारा।

(ख) मूलों द्वारा जल के अवशोषण की दर को बढ़ाया जा सकता है, उन्हें –

  1. छाया में रखकर।
  2. मंद प्रकाश में रखकर।
  3. पंखे के नीचे रखकर।
  4. पॉलीथीन की थैली में रखकर।

उत्तर:
(क) जाइलम के द्वारा।

(ख) मन्द प्रकाश में रखकर।

जंतुओं एवं पौधों में परिवहन Class 7 प्रश्न 4.
पादपों अथवा जन्तुओं में पदार्थों का परिवहन क्यों आवश्यक है? समझाइए।
उत्तर:
पादप तथा जन्तुओं में परिवहन द्वारा रक्त के माध्यम से भोजन, जल, ऑक्सीजन एवं अन्य महत्वपूर्ण उपयोगी पदार्थों को शरीर के विभिन्न भागों में पहुँचाया जाता है जिससे मनुष्य जैविक क्रियाएँ करता है। परिवहन द्वारा उन अंगों में उत्पन्न हानिकारक पदार्थों जैसे- कार्बन डाइऑक्साइड, पसीना, मूत्र आदि को शरीर से बाहर निकाला जाता है। अतः पादपों और जन्तुओं में पदार्थों का परिवहन आवश्यक है।

MP Board Solutions

MP Board Class 7 Science Chapter 11 प्रश्न 5.
क्या होगा यदि रक्त में पट्टिकाणु नहीं होंगे?
उत्तर:
पट्टिकाणु चोट लगने पर थक्का जमाने में सहायक हैं। रक्त में यदि पट्टिकाणु नहीं होंगे तो चोट लगने पर थक्का नहीं जमेगा। थक्का न जमने से शरीर से अधिक रक्त बह जायेगा जिससे व्यक्ति की मृत्यु भी हो सकती है।

MP Board Class 7th Science Chapter 11 प्रश्न 6.
रन्ध्र क्या हैं? रन्धों के दो कार्य बताइए।
उत्तर:
पादप की पत्तियों में गैसों के विनिमय के लिए सूक्ष्म छिद्र होते हैं, जो रन्ध्र कहलाते हैं।

रन्ध्रों के कार्य:
पादपों में उपस्थित अतिरिक्त जल, वाष्प बनकर उड़ता रहता है।
रन्ध्रों से पत्तियों ऑक्सीजन एवं कार्बन डाइऑक्साइड का आदान-प्रदान करती हैं।

Jantuon Aur Padapon Mein Parivahan प्रश्न 7.
क्या वाष्पोत्सर्जन पादपों में कोई उपयोगी कार्य करता है?
उत्तर:
वाष्पोत्सर्जन से चूषण अभिकर्षण बल उत्पन्न होता है जिसके कारण मूलों द्वारा अवशोषित जल तने और पत्तियों तक पहुँचता है। यह पादपों का ठण्डा भी रखता है।

विज्ञान कक्षा 7 पाठ 11 प्रश्न 8.
रक्त के घटकों के नाम बताइए।
उत्तर:
रक्त के घटक: प्लाज्मा, लाल रक्त कोशिकाएँ (RBC), श्वेत रक्त कोशिकाएँ (WBC), तथा पट्टिकाणु (प्लैटलेट्स) हैं।

MP Board Solutions

Class 7 Science Chapter 11 Question Answer In Hindi प्रश्न 9.
शरीर के सभी अंगों को रक्त की आवश्यकता क्यों होती है?
उत्तर:

  1. रक्त ऑक्सीजन, भोजन, हार्मोन्स एवं अन्य:आवश्यक पदार्थों को शरीर के विभिन्न भागों में ले जाता है।
  2. कार्बन डाइऑक्साइड तथा अन्य उत्सर्जी पदार्थों को शरीर के विभिन्न भागों से लाकर फेफड़ों एवं अन्य उत्सर्जी अंगों की सहायता से निष्कासित करता है।
  3. उपापचय में बने विषैले एवं हानिकारक पदार्थों को हानिरहित बनाने के लिए यकृत में भेजता है।

इस प्रकार सभी अंगों को रक्त की आवश्यकता होती है।

Kaksha 7 Vigyan Paath 11 प्रश्न 10.
रक्त लाल रंग का क्यों दिखाई देता है?
उत्तर:
रक्त में लाल रंग का वर्णक होता है जिसे हीमोग्लोबिन कहते हैं। हीमोग्लोबिन की उपस्थिति के कारण ही रक्त का रंग लाल होता है।

Jantu Or Padap Me Parivahan प्रश्न 11.
हृदय के कार्य बताइए।
उत्तर:
हृदय के कार्य:

  1. हृदय शरीर के समस्त अंगों एवं कोशिकाओं में शुद्ध रक्त प्रवाहित करता है।
  2. अशुद्ध रक्त को अंगों से एकत्रित करके फेफड़ों, वृक्क एवं यकृत में शुद्ध होने के लिए प्रवाहित करता है।
  3. हृदय रक्त के माध्यम से सभी कोशिकाओं को जल एवं अन्य उपयोगी पदार्थों का संवहन करता है।

MP Board Solutions

विज्ञान भारती कक्षा 7 पाठ 11 प्रश्न 12.
शरीर द्वारा अपशिष्ट पदार्थों को उत्सर्जित करना क्यों आवश्यक है?
उत्तर:
शरीर में जैविक क्रियाओं के अन्तर्गत कुछ हानिकारक पदार्थों का निर्माण होता है। इनका शरीर से बाहर निकलना अत्यन्त आवश्यक है अन्यथा शरीर में विष उत्पन्न हो जाएगा जिससे मृत्यु हो सकती है।

MP Board Class 7th Science प्रश्न 13.
मानव का उत्सर्जन तन्त्र का चित्र बनाइए और उसके विभिन्न भागों को नामांकित कीजिए।
उत्तर:
मानव का उत्सर्जन तन्त्र:
MP Board Class 7th Science Solutions Chapter 11 जंतुओं और पादप में परिवहन 2

MP Board Class 7th Science Solutions

MP Board Class 7th Maths Solutions Chapter 2 Fractions and Decimals Ex 2.3

MP Board Class 7th Maths Solutions Chapter 2 Fractions and Decimals Ex 2.3

Class 7 Maths Chapter 2 Exercise 2.3 Question 2 Question 1.
MP Board Class 7th Maths Solutions Chapter 2 Fractions and Decimals Ex 2.3 1
Solution:
MP Board Class 7th Maths Solutions Chapter 2 Fractions and Decimals Ex 2.3 2

Class 7 English Chapter 2.3 Question Answer Question 2.
Multiply and reduce to lowest form (if possible):
MP Board Class 7th Maths Solutions Chapter 2 Fractions and Decimals Ex 2.3 3
Solution:
MP Board Class 7th Maths Solutions Chapter 2 Fractions and Decimals Ex 2.3 4

Class 7 Maths Chapter 2 Exercise 2.3 Solutions Question 3.
Multiply the following fractions:
MP Board Class 7th Maths Solutions Chapter 2 Fractions and Decimals Ex 2.3 5
Solution:
MP Board Class 7th Maths Solutions Chapter 2 Fractions and Decimals Ex 2.3 6

Class 7 Maths Chapter 2 Exercise 2.3 Solutions In English Question 4.
MP Board Class 7th Maths Solutions Chapter 2 Fractions and Decimals Ex 2.3 7
Solution:
Converting these fractions into like fractions, we obtain
MP Board Class 7th Maths Solutions Chapter 2 Fractions and Decimals Ex 2.3 8
Class 7 Maths Chapter 2 Exercise 2.3 Question 3 Question 5.
Saili plants 4 saplings, in a row, in her garden. The distance between two adjacent saplings is \(\frac{3}{4}\) m. Find the distance between the first and the last sapling.
Solution:
MP Board Class 7th Maths Solutions Chapter 2 Fractions and Decimals Ex 2.3 9
From the figure, it can be observed that gap between first and last sapling = 3 × Length of gap 1
Therefore, distance between first and last
MP Board Class 7th Maths Solutions Chapter 2 Fractions and Decimals Ex 2.3 10

MP Board Class 7th Maths Solutions Chapter 2 Fractions and Decimals Ex 2.3

Class 7 Maths Chapter 2.3 Question 6.
Lipika reads a book for \(1 \frac{3}{4}\) hours everyday. She reads the entire book in 6 days. How many hours in all were required by her to read the book?
Solution:
Time taken by Lipika to read the book per day = \(1 \frac{3}{4}\) hours = \(\frac{7}{4}\) hours
Number of days = 6
Total time taken by her to read the entire book = \(\frac{7}{4}\) × 6 hours = \(\frac{21}{2}\) hours
= \(=10 \frac{1}{2}\)hours

Multiply The Following Fraction Class 7 Question 7.
A car runs 16 km using 1 litre of petrol. How much distance will it cover using \(2 \frac{3}{4}\) litres of petrol?
Solution:
A car can run per litre of petrol = 16 km
Quantity of petrol = \(2 \frac{3}{4}\) litres = \(\frac{11}{4}\) litres
So, a car can run for \(\frac{11}{4}\) litres of petrol
MP Board Class 7th Maths Solutions Chapter 2 Fractions and Decimals Ex 2.3 11

MP Board Class 7th Maths Solutions Chapter 2 Fractions and Decimals Ex 2.3

MP Board Class 7 Maths Solutions Chapter 2 Question 8.
MP Board Class 7th Maths Solutions Chapter 2 Fractions and Decimals Ex 2.3 12
Sltion:
MP Board Class 7th Maths Solutions Chapter 2 Fractions and Decimals Ex 2.3 13

MP Board Class 7th Maths Solutions

MP Board Class 6th Hindi Sugam Bharti Solutions Chapter 3 भाई-बहन

In this article, we will share MP Board Class 6th Hindi Solutions Chapter 3 भाई-बहन Pdf, These solutions are solved subject experts from the latest edition books.

MP Board Class 6th Hindi Sugam Bharti Solutions Chapter 3 भाई-बहन

MP Board Class 6th Hindi Sugam Bharti Chapter 3 प्रश्न-अभ्यास

वस्तुनिष्ठ प्रश्न

Class 6 Hindi Chapter 3 MP Board प्रश्न 1.
(क) सही जोड़ी बनाइए
1. पंखहीन – (क) कपड़ा
2. मंगल – (ख) गला
3. रेशमी – (ग) पक्षी
4. जग से – (घ) मन
उत्तर
1. (ग), 2. (घ), 3. (क), 4. (ख)

MP Board Solutions

MP Board Class 6 Hindi Chapter 3 प्रश्न (ख)
दिए गए शब्दों में से उपयुक्त शब्द घुनकर रिक्त स्थानों की पूर्ति कीजिए.
1. न जाने कितनी…स्मृतियाँ उसके अंतःस्थल में उठकर बिंधी सी जा रही थीं। (मीठी/कड़ीवी)
2. भाई-बहन सदा……..नहीं रहते। (अलग-अलग/साथ-साथ)
3. करीब आधे घण्टे के बाद किंचित…..सा मुख लिए निर्मला कमल को साथ लेकर स्कूल चली गई। (उदास/पुलकित)
4. रह-रहकर एक…….अनुभूति उसके मन में होने लगी। (नूतन/पुरातन)
5. क्रमशः दर्शकों के झुण्ड भी…….होने लगे। (छिन्न-भिन्न इकट्वे)
उत्तर
1. मीठी
2. साथ-साथ
3. उदास
4. नूतन
5. छिन्न-भिन्न।

MP Board Class 6th Hindi Sugam Bharti Chapter 3 अति लघु उत्तरीय प्रश्न

Class 6th Hindi Chapter 3 MP Board प्रश्न 2.
निम्नलिखित प्रश्नों के उत्तर एक-एक वाक्य में दीजिए

(क) सावित्री के अंतःस्थल में किसकी यादें बसी धी?
उत्तर
सावित्री के अंतःस्थल में अपने भाई की यादें बसीं थीं।

(ख) सावित्री को अपनी बक-बक सारहीन सी क्यों लगी?
उत्तर
क्योंकि सावित्री का भाई उसके पास नहीं था।

MP Board Solutions

(ग) रोते-रोते निर्मला के चेहरे का रंग सफेद क्यों पड़ गया?
उत्तर
क्योंकि निर्मला का भाई भीड़ में खो गया था। वह कहीं नहीं दिख रहा था।

(घ) माँ के दिल से भी अधिक कमल की चिंता और किसको थी?
उत्तर
माँ के दिल से भी अधिक कमल की चिंता निर्मला को थी।

(ङ) माँ की झिड़कियों का बालिका पर क्या प्रभाव पड़ा?
उत्तर
बालिका का नन्हा मस्तिष्क उलझन में पड़ गया।

MP Board Class 6th Hindi Sugam Bharti Chapter 3 लघु उत्तरीय प्रश्न

MP Board Class 6th Hindi Chapter 3 प्रश्न 3.
निम्नलिखित प्रश्नों के उत्तर तीन-से-पाँच वाक्यों में दीजिए

(क) कमल के आँखों से ओझल होते ही निर्मला की मनोदशा का वर्णन कीजिए।
उत्तर
कमल के आँखों से ओझल होते ही निर्मला बेचैन हो उठी। उसके होश-हवास एकाएक गुम हो गए। वह व्याकुल सी हो एक कमरे से दूसरे में और फिर बरामदे में पंखहीन पक्षी की भांति फड़फड़ाती हुई दौड़ने लगी। उसकी आँखों के आगे अंधेरा-सा छा गया। सब कुछ सुनसान-सा प्रतीत होने लगा।

MP Board Solutions

(ख) ‘जब इन्हीं दुर्लभ सूरतों को देखने के लिए तरसोगी।’ कहकर सावित्री क्या कहना चाहती है?
उत्तर
सावित्री कहना चाहती है कि भाई-बहन सदा साथ नहीं रहते। एक समय आता है जब बहन को भाई का साथ छोड़ना पड़ता है। लेकिन जब तक भाई-बहन साथ-साथ रहते हैं, उनके बीच नोंक-झोंक, होती रहती है। सावित्री निर्मला को बताना चाहती है कि आज वह अपने छोटे भाई से लड़ाई कर रही है किंतु एक समय आएगा जब वह भाई से काफी दूर होगी और उसे देखने को तरसेगी।

(ग) भाई को भेजे जाने वाले उपहार के साथ सावित्री की स्मृतियाँ किस प्रकार जुड़ी हुई हैं?
उत्तर
भाई को भेजे जाने वाले उपहार के साथ सावित्री की मीठी स्मृतियाँ जुड़ी हुई हैं। अनेक वन, पर्वत, नदी, नाले और मैदान के पास दूर से एक मुखाकृति बार-बार नेत्रों के सामने आकर उसके रोम-रोम को पुलकित कर रही है। ऐसा लगता है कि सामने दीवार पर लटकी हुई उसके भाई की तस्वीर हँसकर बोल उठेगी।

MP Board Solutions

(घ) निर्मला के फूट-फूट कर रोने का कारण स्पष्ट कीजिए।
उत्तर
निर्मला अपने भाई कमल को लेकर मुहर्रम का जुलूस देखने गई है। भीड़ काफी है। यों तो वह कमल का हाथ सावधानी से पकड़ें हुई थी लेकिन पता नहीं कब उसकी पकड़ ढीली पड़ गई और कमल भीड़ में खो गया। जैसे ही निर्मला को एहसास हुआ कि उसका भाई खो गया है, वह फूट-फूटकर रोने लगी।

(ङ) कमल और निर्मला का आपस में लड़ना और फिर एक-दूसरे से मिलने को आतुर होना वस्तुतः आत्मीय स्नेह का ही प्रमाण है। इस कथन की पुष्टि कीजिए।
उत्तर
भाई-बहन का आपस में लड़ना और फिर एक हो जाना जग जाहिर है। निर्मला कमल से चार साल बड़ी है। वह कमल पर रौब जमाती है। उसे बात-बात पर डांटती है। अपना कोई सामान उसे छूने नहीं देती है। कमल बेचारा परेशान रहता है। लेकिन इसका मतलब यह नहीं कि दोनों के बीच प्रेम नहीं है। दरअसल दोनों एक-दूसरे को हृदय से चाहते हैं। कमल जब खो जाता है तो निर्मला बेचैन हो उठती है। वह फूट-फूटकर रोती है। इधर कमल भी अपनी दीदी से मिलने के लिए आतुर है।

भाषा की बात

Sugam Ganit, Class 6 Chapter 3 प्रश्न 4.
निम्नलिखित शब्दों का सही उच्चारण कीजिए
श्वेत, स्मृतियाँ, मुखाकृति, प्रेमाश्रु, झिड़कियाँ, प्रस्फुटित, चित्ताकर्षक
उत्तर
स्वयं करें।

Bhai Bahan Question Answer प्रश्न 5.
MP Board Class 6th Hindi Sugam Bharti Solutions Chapter 3 भाई-बहन 1
उत्तर
अन्तस्थल, स्कूल, झुंझलाकर, तस्वीर

MP Board Solutions

प्रश्न 6.
निम्नलिखित मुहावरों का वाक्य में प्रयोग कीजिए
रोम-रोम पुलकित होना, होश-हवास गुम होना, चेहरे का रंग सफेद पड़ना, फूट-फूट कर रोना।
उत्तर
रोम-रोम पुलकित होना-भाई से मिलते ही रमा के रोम-रोम पुलकित हो उठे। होश-हवास गुम होना-जैसे ही तेंदुआ गांव में घुसा, लोगों के होश-हवास गुम हो गए।
चेहरे का रंग सफेद पड़ना-परीक्षा में फेल होने की खबर सुनते ही रमण के चेहरे का रंग सफेद पड़ गया। फूट-फूटकर रोना-बच्चे को फूट-फूटकर रोते देखकर मैं विचलित हो उठी।

प्रश्न 7.
दिए गए शब्दों में से हिंदी (तत्सम्, तद्भव) और आगत (अंग्रेजी तथा उद्र) शब्द पृथक पृथकू लिखिए
बॉक्स, आश्वासन, चीज़, बाथरूम, बैग, मुस्कुराना, ग्रामोफोन, खूब, मामला, शरारत, स्कूली, हल्की, आफत,
शक्ल-सूरज, जुलूस, दरवाज़ा, गरीब, होश-हवास, सम्मोहन, नेपत्थ्य, सुनसान, जरूर, नूतन
उत्तर
हिन्दी (तत्सम, तद्भव)-आश्वासन, चीज़, मुस्कुराना, मामला, शरारत, हल्की, शक्ल-सूरत, जुलूस, दरवाज़ा, गरीब, होश-हवास, सम्मोहन, नेपथ्य, सुनसान, नूतन।
आगत (अंग्रेजी तथा उर्दू)-बॉक्स, बाथरूम, बैग, ग्रामोफोन, खूब, स्कूल, आफत, जरूर।

MP Board Solutions

प्रश्न 8.
निम्नलिखित वाक्यों को पढ़कर व्यक्तिवाचक, जातिवाचक व भाववाचक संज्ञा को छांटकर लिखिए
(क) तितली के एक पंख की कढ़ाई की जा चुकी थी।
(ख) उदास-सा मुख लिए निर्मला स्कूल चली गई।
(ग) एकाएक सावित्री के चेहरे पर हँसी आ गई।
(घ) पाँच बजे मोहर्रम का जुलूस निकलने वाला था।
(ङ) सावित्री ने कॉपी रखने के लिए कुर्सी की सफाई की।
उत्तर
व्यक्तिवाचक संज्ञा-निर्मला, सावित्री, स्कूल,
जातिवाचक संज्ञा-तितली, कॉपी, कुर्सी, पंख,
भाववाचक संज्ञा-कढ़ाई, हँसी, सफाई

भाई-बहन प्रसंग सहित व्याख्या

1. न जाने कितनी ……………………. कर दिया।

शब्दार्थ-मंगल-शुभ। कामना=इच्छा। अंतःस्थल= हृदय। नेत्र आँख। सम्मुख=सामने। पुलकित= खुश। विवश=मजबूर।

प्रसंग-प्रस्तुत पंक्तियाँ हमारी पाठ्य-पुस्तक सुगम भारती-6 में संकलित पाठ ‘भई-बहन’ से उद्धृत हैं। इसकी लेखिका हैं ‘सत्यवती मलिक’।

व्याख्या- इन पंक्तियों में भाई-बहन के प्यार को उजागर किया गया है। सावित्री अपने भाई की याद में खोयी है। उसका जन्मदिन काफी करीब है। सावित्री उसके जन्मदिन पर उपहार भेजने की तैयारी में लगी है। उसने एक श्वेत कपड़े पर तितली की सुंदर आकृति खींची है। उपहार तैयार करने के दौरान वह कई मीठी यादों में खो जाती है। उसका भाई भले ही उससे दूर है, किंतु वह उसकी मुखाकृति बार-बार नेत्रों के सामने आकर उसे हर्षित कर दे रही है। कभी-कभी तो उसे ऐसा लगता है, उसके भाई नरेन्द्र की तस्वीर तुरंत हंस उठेगी। सावित्री भावविभोर हो जाती है। उसकी आँखें भर आती हैं। वह चाहती है उसका नरेन्द्र उसके सामने आ जाता। अचानक बेटे कमल के रोने की आवाज कानों में पड़ते ही वह वहाँ से उठ जाती है। .

MP Board Solutions

2. नीचे की सड़क …. भी नहीं है!

शब्दार्थ-भांति-भांति-तरह-तरह । बाल=जगत बच्चों का संसार । सम्मोहन मन को =आकर्षित करना । नेपथ्यपीछे से। चित्ताकर्षक= मनमोहक।

प्रसंग-पूर्ववत्

व्याख्या- निर्मला अपने भाई को लेकर मुहर्रम का जुलूस देखने आयी है। जुलूस देखने के लिए अच्छी-खासी भीड़ उमड़ पड़ी है। निर्मला के भाई की उंगली छुट गई और वह भीड़ में खो गया। जैसे ही निर्मला को एहसास हुआ कि उसका भाई उससे बिछड़ गया है, वह एकदम से बेचैन हो गई। वह चीख उठी। जिस जुलूस को देखने यह इतनी उत्साह से आयी थी, अब वह सारा उत्साह खत्म हो गया। दुनिया फीकी नजर आने लगी। रंग-बिरंगे खिलौने, गुब्बारे, तरह-तरह के सुर निकालते हुए बाजे सब कुछ निर्मला के लिए अर्थहीन हो गया। वह भीड़ चीरती हुई तुरंत वहाँ से निकल पड़ी भाई को खोजने के लिए। वह सबसे पहले सीता के घर गई, लेकिन कमल वहाँ नहीं मिला। निर्मला रोती जा रही थी। रोते-रोते उसकी आँखें सूज गईं, चेहरा सफेद पड़ गया। अंत में वह माँ के पास गई और उससे सारा हाल बतायी माँ सन्न रह गई।

विशेष

  • भाषा और शैली बोधगम्य है।
  • शब्दों का प्रयोग सहज जान पड़ता है।

MP Board Class 8th Science Solutions Chapter 9 जंतुओं में जनन

MP Board Class 8th Science Solutions Chapter 9 जंतुओं में जनन

MP Board Class 8th Science Chapter 9 पाठ के अन्तर्गत के प्रश्नोत्तर

पाठ्य-पुस्तक पृष्ठ संख्या # 100

प्रश्न 1.
आपने पाचन, परिसंचरण एवं श्वसन प्रक्रम के बारे में पढ़ा था। क्या आपको इनके विषय में याद है?
उत्तर:
हाँ, ये प्रक्रम प्रत्येक जीव की उत्तरजीविता के लिए आवश्यक हैं।

जनन की विधियाँ

MP Board Class 8 Science Chapter 9 प्रश्न 1.
क्या आपने विभिन्न जन्तुओं के बच्चों को देखा है? कुछ जन्तुओं के बच्चों के नाम निम्न सारणी में भरने का प्रयास कीजिए जैसा कि क्रम संख्या 1 एवं 5 में उदाहरण देकर दर्शाया गया है।
उत्तर:
MP Board Class 8th Science Solutions Chapter 9 जंतुओं में जनन 1

प्रश्न 2.
क्या आप बता सकते हैं कि चूजे और इल्ली (केटरपिलर) किस प्रकार जन्म लेते हैं?
उत्तर:
हाँ, चूजे और इल्ली लैंगिक जनन से जन्म लेते हैं और अण्डे देते हैं। इन्हें अण्डप्रजक जन्तु कहते हैं।

MP Board Solutions

Class 8 Science Chapter 9 MP Board प्रश्न 3.
बिलौटे और पिल्ले का जन्म किस प्रकार होता है?
उत्तर:
बिलौटे और पिल्ले का जन्म लैंगिक जनन के द्वारा होता है। ये शिशु के रूप में जन्म लेते हैं। इन्हें जरायुज जन्तु कहते हैं।

प्रश्न 4.
क्या आप सोचते हैं कि जन्म से पूर्व ये जीव वैसे ही दिखाई देते थे जैसे कि वह अब दिखाई देते हैं? आइए पता लगाते हैं?
उत्तर:
नहीं, हम ऐसा नहीं सोचते हैं।

लैंगिक जनन

प्रश्न 1.
आपको याद होगा कि लैंगिक जनन करने वाले पौधों में नर और मादा जननांग (भाग) होते हैं। क्या आप इन भागों के नाम बता सकते हैं?
उत्तर:
हाँ, पौधों में नर जननांग पुंकेसर तथा मादा जननांग स्त्रीकेसर होते हैं।

पाठ्य-पुस्तक पृष्ठ संख्या # 101

नर जनन अंग

जंतुओं में जनन Class 8 Question Answer प्रश्न 1.
क्या शुक्राणु एकल कोशिका जैसे प्रतीत होते हैं?
उत्तर:
हाँ, ये एकल कोशिका होते हैं।

MP Board Solutions

प्रश्न 2.
शुक्राणु में पूँछ किस काम आती है?
उत्तर:
शुक्राणु में पूँछ डिम्बवाहिनी में तैरने में सहायता करती है और निषेचन के लिए अण्डाणु तक पहुंचते हैं।

पाठ्य-पुस्तक पृष्ठ संख्या # 102

निषेचन

कक्षा 8 विज्ञान पाठ 9 के प्रश्न उत्तर प्रश्न 1.
क्या आपको जानकारी थी कि एक युग्मनज नए व्यष्टि का प्रारम्भ है?
उत्तर:
हाँ, एक युग्मनज नए व्यष्टि का प्रारम्भ है।

पाठ्य-पुस्तक पृष्ठ संख्या # 103

क्रियाकलाप 9.1

प्रश्न 1.
अण्डों के रंग तथा साइज को नोट कीजिए।
उत्तर:
अण्डों का रंग हल्का सफेद होता है तथा साइज 1 सेमी कम से लेकर कुछ सेमी तक होता है।

MP Board Solutions

MP Board Class 8th Science Chapter 9 प्रश्न 2.
मछली और मेंढक एक साथ सैकड़ों अण्डे क्यों देते हैं जबकि मुर्गी एक समय में केवल एक अण्डा ही देती है।
उत्तर:
मछली और मेंढक सैकड़ों अण्डे देते हैं तथा लाखों शुक्राणु निर्मोचित करते हैं। इनमें से सारे अण्डों का निषेचन नहीं होता और वे नया जीव नहीं बन पाते। इसका कारण यह है कि अण्डे एवं शुक्राणु निरन्तर जल की गति, वायु एवं वर्षा से प्रभावित होते रहते हैं तथा जल में ऐसे भी जन्तु रहते हैं जो इन अण्डों का भोजन करते हैं।

अतः इनका सैकड़ों अण्डे देना आवश्यक है जिससे कि उनमें से कुछ में निषेचन की क्रिया हो सके। इसके अतिरिक्त ये अण्डे कवच से ढके नहीं होते तथा अपेक्षाकृत कोमल होते हैं। अतः इनकी सुरक्षा नहीं हो पाती जबकि मुर्गी के अण्डे कवच से ढके रहते हैं। जेली की एक परत अण्डों को एक साथ रखती है तथा इनकी सुरक्षा भी करती है।

पाठ्य-पुस्तक पृष्ठ संख्या # 104

प्रश्न 1.
एक एकल कोशिका किस प्रकार एक बड़ा जीव बन सकता है?
उत्तर:
निषेचन की प्रक्रिया में शुक्राणु और अण्डाणु संलयित होकर युग्मनज का निर्माण करते हैं। युग्मनज विकसित होकर भ्रूण में परिवर्तित होता है। गर्भाशय में भ्रूण का विकास होता है और धीरे-धीरे शारीरिक अंग, जैसे-हाथ, पैर, आँख, कान, नाक इत्यादि विकसित हो जाते हैं। यह अवस्था गर्भ कहलाती है। जब गर्भ का विकास पूर्ण हो जाता है तो शिशु के रूप में बड़ा जीव बन जाता है।

पाठ्य-पुस्तक पृष्ठ संख्या # 105

Jantu Me Janan Class 8 प्रश्न 1.
क्या मनुष्य और गाय की तरह मुर्गी भी बच्चों को जन्म देती है?
उत्तर:
नहीं, मनुष्य और गाय की तरह मुर्गी बच्चों को जन्म नहीं देती है।

MP Board Solutions

प्रश्न 2.
चूजे कैसे जन्म लेते हैं?
उत्तर:
निषेचन के बाद युग्मनज लगातार विभाजित होकर अण्डवाहिनी में नीचे की ओर बढ़ता रहता है और इस पर सुरक्षित परत चढ़ती जाती है और अन्त में एक कठोर सुरक्षित कवच अण्डे पर दिखाई देता है। कठोर कवच के पूर्ण रूप से बन जाने के बाद मुर्गी अण्डे का निर्मोचन करती है। लगभग 3 सप्ताह बाद अण्डे का चूजा बन जाता है। चूजे के पूर्ण रूप से विकसित होने के बाद कवच के प्रस्फुटन के बाद चूजा बाहर आता है।

Jantuon Mein Janan प्रश्न 3.
आपने मुर्गी को ऊष्मायन के लिए अण्डों पर बैठे देखा होगा। क्या आप जानते हैं कि अण्डे के अन्दर चूजे का विकास उस अवधि में ही होता है?
उत्तर:
हाँ, हम जानते हैं कि अण्डे के अन्दर चूजे का विकास इस अवधि में ही होता है।

क्रियाकलाप 9.2

प्रश्न 1.
क्या आप इन सभी प्राणियों के अण्डे एकत्र कर पाए हैं? जिन अण्डों को आपने एकत्र किया है, उनके चित्र बनाइए।
उत्तर:
हाँ, हमने निम्नांकित अण्डे एकत्र किए हैं –
MP Board Class 8th Science Solutions Chapter 9 जंतुओं में जनन 1

MP Board Class 8 Science प्रश्न 2.
क्या आप जरायुज एवं अण्डप्रजक जन्तुओं के कुछ अन्य उदाहरण दे सकते हैं?
उत्तर:
जरायुज जन्तु: गाय, घोड़ा, हाथी, गधा, बन्दर आदि।
अण्डप्रजक जन्तु: कबूतर, कौवा, मोर, डक, हंस आदि।

पाठ्य-पुस्तक पृष्ठ संख्या # 106

शिशु से वयस्क

प्रश्न 1.
क्या टैडपोल वयस्क मेंढक से भिन्न दिखाई नहीं देते?
उत्तर:
हाँ, टैडपोल वयस्क मेंढक से बिल्कुल भिन्न दिखाई देते हैं।

कक्षा 8 विज्ञान पाठ 9 प्रश्न 2.
क्या आप सोच सकते हैं कि किसी दिन यह टैडपोल वयस्क मेंढक बन जायेंगे?
उत्तर:
हाँ, लगभग दो सप्ताह बाद ये टैडपोल बड़े होकर वयस्क मेंढक बन जायेंगे।

MP Board Solutions

प्रश्न 3.
फिर टैडपोल अथवा इल्ली का क्या होता है?
उत्तर:
टैडपोल कुछ परिवर्तनों के साथ रूपान्तरित होकर वयस्क बन जाता है, जो तैर सकता है और छलांग लगा सकता है। इल्ली की स्थिति में एक सुन्दर शलभ कोकून से बाहर आता है जो बाद में ये विकसित होकर रेशम के कीट बन जाते हैं। इनके शरीर का कायान्तरण हो जाता है।

MP Board Class 8 Science Solution प्रश्न 4.
जैसे-जैसे हम बड़े होते हैं, हम शरीर में किस प्रकार के परिवर्तन देखते हैं?
उत्तर:
जैसे-जैसे हम बड़े होते हैं हमारे शरीर के अंगों का रूपान्तरण होने लगता है। अंगों में कुछ विशेष परिवर्तन होने लगते हैं।

प्रश्न 5.
क्या आप सोचते हैं कि हमारा भी कायान्तरण होता है?
उत्तर:
हाँ, हमारा भी कायान्तरण होता है।

अलैंगिक जनन

Kaksha 8 Vigyan Paath 9 प्रश्न 1.
अमीबा में जनन किस प्रकार होता है? क्या आप उनके प्रजनन करने के ढंग के विषय में जानते हैं?
उत्तर:
हाँ, हम उनके प्रजनन के ढंग के विषय में जानते हैं। अमीबा में अलैंगिक जनन होता है। अमीबा में द्विखण्डन विधि से प्रजनन होता है। इसमें पूर्ण विकसित एक कोशिकीय जीव अमीबा की कोशिका में जीवद्रव्य और केन्द्रक का विभाजन हो जाता है। इस प्रक्रिया में पहले केन्द्रक विभाजित होता है, फिर जीवद्रव्य विभाजित होता है, फिर दोनों भाग अलग-अलग होकर दो अमीबा को जन्म देते हैं।

पाठ्य-पुस्तक पृष्ठ संख्या # 107

क्रियाकलाप 9.3

Class 8 MP Board Science Chapter 9 प्रश्न 1.
जनक के शरीर से क्या कुछ उभरी हुई संरचनाएँ दिखाई देती हैं। इन उभरी हुई संरचनाओं की संख्या ज्ञात कीजिए। इनका साइज भी ज्ञात कीजिए। हाइड्रा का चित्र वैसा ही बनाइए जैसा आपको दिखाई देता है।
उत्तर:
हाँ, जनक के शरीर में उभरी हुई संरचनाएँ दिखाई देती हैं। इन्हें मुकुल कहते हैं। उभरी हुई संरचना एक है।
MP Board Class 8th Science Solutions Chapter 9 जंतुओं में जनन 3

MP Board Class 8th Science Chapter 9 पाठान्त अभ्यास के प्रश्नोत्तर

प्रश्न 1.
सजीवों के लिए जनन क्यों महत्वपूर्ण है?
उत्तर:
सजीवों में जनन की प्रक्रिया उत्तरजीविता के लिए आवश्यक है। इससे एक जैसे जीवों में पीढ़ी-दर-पीढ़ी निरन्तरता बनी रहती है।

Science Chapter 9 Class 8 MP Board प्रश्न 2.
मनुष्य में निषेचन प्रक्रम को समझाइए।
उत्तर:
मनुष्य में जनन के प्रक्रम में सर्वप्रथम शुक्राणु और अण्डाणु का संलयन होता है। इस प्रक्रम में मादा के अण्डाणु और नर के शुक्राणु का संयोजन होता है। निषेचन के परिणामस्वरूप युग्मनज का निर्माण होता है। नई संतति में कुछ लक्षण माता से तथा कुछ लक्षण पिता से वंशानुगत होते हैं। यह निषेचन शरीर के अन्दर होता है। अतः इसे आन्तरिक निषेचन कहते हैं।

प्रश्न 3.
सर्वोचित उत्तर चुनिए –
(क) आन्तरिक निषेचन होता है –

  1. मादा के शरीर में।
  2. मादा के शरीर से बाहर।
  3. नर के शरीर में।
  4. नर के शरीर के बाहर।

(ख) एक टैडपोल जिस प्रक्रम द्वारा वयस्क में विकसित होता है, वह है –

  1. निषेचन।
  2. कायान्तरण।
  3. रोपण।
  4. मुकुलन।

(ग) एक युग्मनज में पाए जाने वाले केन्द्रकों की संख्या होती है –

  1. कोई नहीं।
  2. एक।
  3. दो।
  4. चार।

उत्तर:
(क) मादा के शरीर में।
(ख) कायान्तरण।
(ग) एक।

Class 8 Jantuon Mein Janan प्रश्न 4.
निम्न कथन सत्य (T) है अथवा असत्य (F), संकेतिक कीजिए –

  1. अंड प्रजक जन्तु विकसित शिशु को जन्म देते हैं।
  2. प्रत्येक शुक्राणु एक एकल कोशिका है।
  3. मेंढक में बाह्य निषेचन होता है।
  4. वह कोशिका जो मनुष्य में नए जीवन का प्रारम्भ है, युग्मक कहलाती है।
  5. निषेचन के पश्चात् दिया गया अण्डा एक एकल कोशिका है।
  6. अमीबा मुकुलन द्वारा जनन करता है।
  7. अलैंगिक जनन में भी निषेचन आवश्यक है।
  8. द्विखण्डन अलैंगिक जनन की एक विधि है।
  9. निषेचन के परिणामस्वरूप युग्मनज बनता है।
  10. भ्रूण एक एकल कोशिका का बना होता है।

उत्तर:

  1. असत्य।
  2. सत्य।
  3. सत्य।
  4. सत्य।
  5. सत्य।
  6. असत्य।
  7. असत्य।
  8. सत्य।
  9. सत्य।
  10. असत्य।

MP Board Solution Class 8 Science प्रश्न 5.
युग्मनज और गर्भ में दो भिन्नताएँ दीजिए।
उत्तर:
युग्मनज और गर्भ में भिन्नताएँ:

युग्मनज गर्भ
निषेचन के समय शुक्राणु और अण्डाणु संलयित होकर युग्मनज का निर्माण करते हैं। युग्मनज विकसित होकर भ्रूण में परिवर्धित होता है। भ्रूण की वह अवस्था जिसमें सभी शारीरिक भागों की पहचान हो सके गर्भ कहलाता है।
यह जनन प्रक्रिया के प्रथम चरण के परिणामस्वरूप बनता है। गर्भ का विकास पूरा होने पर माँ नवजात शिशु को जन्म देती है।

प्रश्न 6.
अलैंगिक जनन की परिभाषा लिखिए। जन्तुओं में अलैंगिक जनन की दो विधियों का वर्णन कीजिए।
उत्तर:
वह जनन जिसमें केवल एक ही जनक नए जीव को जन्म देता है, अलैंगिक जनन कहलाता है। इसमें दो लिंगों की आवश्यकता नहीं होती।
अलैंगिक जनन की दो विधियाँ निम्नलिखित हैं –
(1) मुकलन:
वह जनन जिसमें जनक में एक या अधिक उभार विकसित होकर नए जीव को जन्म देते हैं, मुकुलन कहलाता है। जैसे – हाइड्रा में जनन।

(2) विखण्डन:
वह जनन जिसमें जीव विभाजित होकर दो संतति उत्पन्न करता है, द्विखण्डन कहलाता है। जैसे – अमीबा में जनन।

जंतुओं में जनन कक्षा 8 विज्ञान प्रश्न 7.
मादा के किस जनन अंग में भ्रूण का रोपण होता है?
उत्तर:
मादा के गर्भाशय में भ्रूण का रोपण होता है।

प्रश्न 8.
कायान्तरण किसे कहते हैं? उदाहरण लिखिए।
उत्तर:
लारवा का कुछ उग्र परिवर्तनों द्वारा वयस्क जन्तु में बदलने की प्रक्रिया कायान्तरण कहलाती है।

उदाहरण:
टैडपोल रूपान्तरित होकर वयस्क में बदल जाता है, जो तैर सकता है तथा छलांग लगा सकता है।

यूपी बोर्ड कक्षा 8 विज्ञान पाठ 9 प्रश्न 9.
आन्तरिक निषेचन एवं बाह्य निषेचन में भेद कीजिए।
उत्तर”
आन्तरिक निषेचन तथा बाह्य निषेचन में भेद:

आन्तरिक निषेचन बाह्य निषेचन
वह निषेचन जो मादा के शरीर के अन्दर होता है आन्तरिक निषेचन कहलाता है। जैसे – मानव, मुर्गी, गाय, कुत्ता आदि में निषेचन। वह निषेचन जो शरीर के बाहर होता है, बाह्य निषेचन कहलाता है। जैसे – जलीय प्राणियों में निषेचन।

जंतुओं में जनन कक्षा 8 प्रश्न 10.
नीचे दिए गए संकेतों की सहायता से क्रॉस शब्द पहली को पूरा कीजिए।
बाईं से दाईं ओर:
1. यहाँ अण्डाणु उत्पादित होते हैं।
3. वृषण में उत्पादित होते हैं।
4. हाइड्रा का अलैंगिक जनन है।

ऊपर से नीचे की ओर:
1. यह मादा युग्मक है।
2. नर और मादा युग्मक का मिलना।
4. एक अण्ड प्रजक जन्तु।
उत्तर:
MP Board Class 8th Science Solutions Chapter 9 जंतुओं में जनन 4

MP Board Class 8th Science Solutions

MP Board Class 7th Maths Solutions Chapter 4 Simple Equations Ex 4.3

MP Board Class 7th Maths Solutions Chapter 4 Simple Equations Ex 4.3

Class 7 Maths Chapter 4 Exercise 4.3 Solutions Question 1.
Solve the following equations:
(a) \(2 y+\frac{5}{2}=\frac{37}{2}\)
(b) 5t + 28 = 10
(c) \(\frac{a}{5}+3\) = 2
(d) \(\frac{q}{4}+7\) = 5
(e) \(\frac{5}{2} x\) = -10
(f) \(\frac{5}{2} x=\frac{25}{4}\)
(g) \(7 m+\frac{19}{2}\) = 13
(h) 6z + 10 = -2
(i) \(\frac{3 l}{2}=\frac{2}{3}\)
(j) \(\frac{2 b}{3}-5\) = 3
Solution:
MP Board Class 7th Maths Solutions Chapter 4 Simple Equations Ex 4.3 2
MP Board Class 7th Maths Solutions Chapter 4 Simple Equations Ex 4.3 3
MP Board Class 7th Maths Solutions Chapter 4 Simple Equations Ex 4.3 4
MP Board Class 7th Maths Solutions Chapter 4 Simple Equations Ex 4.3 5

Class 7th Maths Chapter 4 Exercise 4.3 Question 2.
Solve the following equations.
(a) 2(x + 4) = 12
(b) 3(n – 5) = 21
(c) 3(n – 5) = -21
(d) -4(2 + x) = 8
(e) 4(2 – x) = 8
Solution:
(a) 2(x + 4) = 12
Dividing both sides by 2,
MP Board Class 7th Maths Solutions Chapter 4 Simple Equations Ex 4.3 6
(Transposing 4 to R.H.S.)

(b) 3(n – 5) = 21
Dividing both sides by 3,
MP Board Class 7th Maths Solutions Chapter 4 Simple Equations Ex 4.3 7
(Transposing – 5 to R.H.S.)

(c) 3(n – 5) = -21
Dividing both sides by 3,
MP Board Class 7th Maths Solutions Chapter 4 Simple Equations Ex 4.3 8
(Transposing – 5 to R.H.S.)

(d) – 4(2 + x) = 8
Dividing both sides by – 4,
MP Board Class 7th Maths Solutions Chapter 4 Simple Equations Ex 4.3 9
(Transposing 2 to R.H.S.)

(e) 4(2 – x) = 8
Dividing both sides by 4,
MP Board Class 7th Maths Solutions Chapter 4 Simple Equations Ex 4.3 10
(Transposing 2 to R.H.S.)
⇒ x = 0

MP Board Class 7th Maths Solutions Chapter 4 Simple Equations Ex 4.3

Class 7 Maths Chapter 4 Exercise 4.3 Question 1 Question 3.
Solve the following equations:
(a) 4 = 5(p – 2)
(b) -4 = 5(p – 2)
(c) 16 = 4 + 3(t + 2)
(d) 4 + 5(p – 1) = 34
(e) 0 = 16 + 4(m – 6)
Solution:
(a) 4 = 5(p – 2)
Dividing both sides by 5,
MP Board Class 7th Maths Solutions Chapter 4 Simple Equations Ex 4.3 11
MP Board Class 7th Maths Solutions Chapter 4 Simple Equations Ex 4.3 12
MP Board Class 7th Maths Solutions Chapter 4 Simple Equations Ex 4.3 13

MP Board Class 7th Maths Solutions Chapter 4 Simple Equations Ex 4.3

Class 7 Maths Chapter 4 Exercise 4.3 Question 4.
(a) Construct 3 equations starting with x= 2.
(b) Construct 3 equations starting with x = -2.
Solution:
(a) x = 2
Multiplying both sides by 5,
5x = 10 … (i)
(b) Let the number be x.
Subtracting 3 from both sides,
5x – 3 = 10 – 3
5x – 3 = 7 …(ii)
Dividing both sides by 2,
MP Board Class 7th Maths Solutions Chapter 4 Simple Equations Ex 4.3 14

(b) x= -2
Subtracting 2 from both sides,
x – 2 = -2 – 2 ⇒ x – 2 = -4 … (i)
Again, take x = – 2
Multiplying both sides by 6,
6 × x = -2 × 6 ⇒ 6x = -12
Subtracting 12 from both sides,
6x – 12 = – 12 – 12 ⇒ 6x – 12 = – 24 …(ii)
Adding 24 to both sides,
6x – 12 + 24 = – 24 + 24
⇒ 6x + 12 = 0 …(iii)

MP Board Class 7th Maths Solutions Chapter 4 Simple Equations Ex 4.3

MP Board Class 7th Maths Solutions

MP Board Class 7th Hindi Sugam Bharti विविध प्रश्नावली 2

MP Board Class 7th Hindi Sugam Bharti Solutions विविध प्रश्नावली 2

Class 7 Hindi Vividh Prashnavali 2 प्रश्न 1.
सही जोड़े बनाइए
1. राज = (क) पाण्डिचेरी
2. योग साधना केंद्र = (ख) कौशल
3. कला = (ग) सुविधा
4. सुख = (घ) पाट
उत्तर-
1. (घ),
2. (क),
3. (ख),
4. (ग)

Class 7th Hindi Vividh Prashnavali 2 प्रश्न 2.
रिक्त स्थानों की पूर्ति सही विकल्प चुनकर कीजिए
(क) आकाश गंगा के सभी तारे हमें पास-पास एक ही दूरी पर दीखते हैं; यह ………………………… है। (दृष्टि दोष/ दृष्टि भ्रम)
(ख) हमने जब भी कदम बढ़ाए, कला नहीं ………………………… दिखलाए। (पराक्रम/कौशल)
(स) तुम्हें इतना ………………………… नहीं होना चाहिए। (अधीर/विकल्प)
(द) आपका पत्र पाकर बड़ा ………………………… व आश्चर्य (सुख/दुख)
उत्तर-
(अ) दृष्टि भ्रम,
(ब) कौशल,
(स) अधीर,
(द) दुःख।

MP Board Solutions

MP Board Class 7 Hindi Vividh Prashnavali 2 प्रश्न 3.
निम्नलिखित प्रश्नों के उत्तर एक-एक वाक्य में लिखिए

(अ) भगत सिंह ने किस बंधन में बंधने से इंकार कर दिया।
उत्तर-
भगत सिंह ने विवाह बंधन में बंधने से इंकार कर दिया।

(ब) कबीर के अनुसार तन-मन को निर्मल कौन करता है?
उत्तर-
कबीर के अनुसार तन-मन को मान और सम्मान निर्मल करते हैं।

(स) गोपी कक्षा में कहाँ बैठता था।
उत्तर-
गोपी कक्षा में सबसे पीछे कोने वाली सीट पर बैठता था।

(द) किस वैज्ञानिक परीक्षण ने विश्व को चकित किया है?
उत्तर-
पोखरन में परमाणु परीक्षण ने विश्व को चकित किया है।

(इ) संतों को किसकी उपेक्षा नहीं करना चाहिए?
उत्तर-
संतों को निंदा की उपेक्षा नहीं करना चाहिए।

Class 7 Vividh Prashnavali 2 प्रश्न 4.
निम्नलिखित प्रश्नों के उत्तर तीन से पाँच वाक्यों में लिखिए
(अ) गुरुजी ने असभ्य गाँववासियों के लिए ईश्वर से क्या प्रार्थना की?
उत्तर-
गुरुजी ने असभ्य गाँववासियों के लिए ईश्वर से प्रार्थना की कि वे कहीं न जाए बल्कि अपने गाँव या क्षेत्र में रहे तथा अपना विकास करें। .

(ब) नोवा और सुपर नोवा तारे में अंतर बताइए।
उत्तर-
जब कोई ‘नया’ तारा अचानक चमकने लगता है तो नोवा या नयातारा कहलाता है। लेकिन सबसे शानदार तो होता है ‘सुपर नोवा’। इसका गुण इसके नाम से ही स्पष्ट है।

MP Board Solutions

(स) प्राचार्य क्लार्क महोदय ने अरविंद की तुलना करते समय क्या कहा?
उत्तर-
बड़ौदा कॉलेज के प्राचार्य क्लार्क महोदय ने जोन ऑफ आर्क से अरविंद की तुलना करते हुए कहा था कि यदि जोन ऑफ आर्क को स्वर्गिक संदेश सुनाई पड़ते हैं, तो श्री अरविंद को भी स्वर्गिक स्वप्न दिखाई पड़ते हैं।

(द) राजा ने भाग्य और साहस में किसको बड़ा सिद्ध किया?
उत्तर-
राजा ने कहा-भाग्य देवता ने मेरे ऊपर बड़ी कृपा की थी। मुझे सेठ ने भाग्य के कारण ही प्रतिदिन एक लाख वेतन पर नौकरी दी किंतु जब जहाज बीच समुद्र में पहुँचा और अटक गया तो मल्लाहों के धक्का देने पर भी नहीं चला, तब मैंने साहस के साथ धक्का देने का प्रयास किया तो मुझे सफलता मिली।” अतः दोनों ही समान है।

(इ) जल पिलाने के लिए कहने पर महिला ने शिष्य को क्या उत्तर दिया?
उत्तर-
जल पिलाने के लिए कहने पर महिला ने शिष्य को कहा-घड़ा मेरा, कुएँ से जल मैंने भरा, तुम्हें क्या दे दूँ? जाओ, खुद निकालो और पियो। आलसी कहीं के।

MP Board Class 7th Hindi Vividh Prashnavali 2 प्रश्न 5.
निम्नलिखित शब्दों की वर्तनी शुद्ध लिखिए
विचित्तर, गरम, आग्या, परिच्छा, आशिरवाद, धरम, महूरत, कालाश, स्वपन, सटेशन
उत्तर-
MP Board Class 7th Hindi Sugam Bharti विविध प्रश्नावली 2 1
MP Board Class 7th Hindi Sugam Bharti विविध प्रश्नावली 2 2

Class 7th Vividh Prashnawali 2 प्रश्न 6.
निम्नलिखित शब्दों में ‘सु’ और ‘कु’ उपसर्ग लगाकर सार्थक शब्द बनाइए
लेख, प्रचार, जन, कर्मी, माता, पुत्र, चारू, विचार
उत्तर-
लेख = सुलेख
प्रचार = कुप्रचार
जन = सुजन
कर्मी = कुकर्मी
माता = कुमाता
पुत्र = सुपुत्र
चारु = सुचारु
विचार = सुविचार

Class 7th Hindi Vividh Prashnawali 2 प्रश्न 7.
निम्नलिखित शब्दोंके दो-दो पर्यायवाची शब्द लिखिए
अवनि, मार्ग, अभिमान, विश्व, मुलाकात, कुसुम, प्रतीक, व्यक्ति, प्रार्थना
उत्तर-
MP Board Class 7th Hindi Sugam Bharti विविध प्रश्नावली 2 3

Kaksha 7 Prashnawali प्रश्न 8.
निम्नलिखित शब्दों के वचन परिवर्तन कीजिए
गाड़ियाँ, टुकड़ा. फैसला, पग, तारों, साथी, मित्र, गांठों, पुष्पों, सज्जन
उत्तर-
MP Board Class 7th Hindi Sugam Bharti विविध प्रश्नावली 2 4

7th Class Hindi Pustak Samiksha प्रश्न 9.

निम्नलिखित शब्दों का समास विग्रह कीजिए
जनसेवक, दृष्टिभ्रम, सुकेश, नीलांबुज, प्रतिदिन, यथासमय, द्विचक्र वाहिनी, गलत-संगत, चक्रवर्ती, चतुर्भज
उत्तर-
MP Board Class 7th Hindi Sugam Bharti विविध प्रश्नावली 2 5
MP Board Class 7th Hindi Sugam Bharti विविध प्रश्नावली 2 6

MP Board Solutions

Class 7 Hindi Chapter 2 MP Board प्रश्न 10.
निम्नलिखित वाक्यों में से उद्देश्य और विधेय चुनिए-
– हम सबुह से ही पैदल चल रहे हैं।
– संतों को सुख-सुविधाओं की अपेक्षा नहीं करना चाहिए।
– आप सत्य कहते हैं।
– राजा विक्रमादित्य सिंहासन पर बैठे थे।
– साहस ने हौसला बढ़ाते हुए कहा।
उत्तर-
उद्देश्य = विधेय
हम = सुबह से ही पैदल चल रहे हैं।
सतों = को सुख-सुविधाओं की अपेक्षा नहीं करनी चाहिए।
आप = सत्य कहते हैं।
राजा = विक्रमादित्य सिंहासन पर बैठे थे।
साहस = ने हौसला बढ़ाते हुए कहा।

MP Board Class 7th Hindi Chapter 2 प्रश्न 11.
कोष्ठक में दिए हुए कारक चिहों को उचित स्थान पर भरिए
[का, ने, में, के लिए, की, में पर]
राजदरबार ……………………… 1 ……………………… पहुँचकर वह हक्का -बक्का रह गया। वहाँ ……………………… 2 ……………………… भव्यता देखकर उसे अपने कपड़ों और अपनी रोटी ……………………… शर्म आने लगी। राजदरबार ……………………… 4 ……………………… जगमग करते उपहारों ……………………… 5 ……………………… ढेर लग गया। दीनू ……………………… 6 ……………………… अपना झोला कसकर पकड़ लिया और एक कोने ……………………… 7 ……………………… खड़ा हो गया। अचानक राजा ……………………… 8 ……………………… नजर उस पर पड़ गई। राजा ने कहा ……………………… 9 ………………………. “भाई! आगे आओ, तुम क्या उपहार लाए हो मेरे ……………………… 10 ………………………?”
उत्तर-

  1. में
  2. की
  3. पर
  4. में
  5. का
  6. ने
  7. में
  8. की
  9. के लिए।

कला से संबंधित प्रश्न उत्तर Class 7 प्रश्न 12.
“भाग्य बड़ा या साहस” कहानी से आपको क्या शिक्षा मिलती है? संक्षेप में लिखिए।
उत्तर-
भाग्य और साहस में श्रेष्ठता की तुलना करना व्यर्थ है क्योंकि मनुष्य बिना साहस और कर्म के कुछ भी नहीं कर सकता परंतु कर्म का फल तभी प्राप्त होता जब भाग्य में लिखा होता है। उदाहरण के लिए एक व्यक्ति जो बहुत प्यासा है, कुआँ तो चल कर उसके पास आएगा नहीं। व्यक्ति को साहस करके स्वयं कुएँ के पास जाना पड़ेगा। अब उसका भाग्य है कि कुआँ सूखा है या पानी जाना पड़ेगा। अब उसका भाग्य है कि कुआ सूखा है या पानी से भरा। अतः साहस और भाग्य एक ही सिक्के के दो पहले है।

MP Board Solutions

विविध प्रश्नावली 2 कक्षा 6 प्रश्न 13.
एकांकी में आए गुरु-शिष्य संवाद का सार लिखिए।
उत्तर-
शिष्य ने गुरु से कहा, “मैं समझ नहीं पा रहा हूँ जो लोग बुरे थे, आपने उनके बने रहने की प्रार्थना की और जो लोग सदाचारी थे, उनके लिए आपने शाप दिया। गुरु ने कहा, मैंने उन असभ्य और स्वार्थी लोगों के एक जगह बने रहने की प्रार्थना इसलिए की कि अगर समाज में ऐसे व्यक्ति फैलेंगे तो अपनी कुसंस्कृति का प्रचार करेंगे। यदि अच्छे व्यक्ति समाज में फैलेंगे तो वे अपने साथ निस्वार्थ सेवाभाव, करुणा, दया और प्रेम आदि सद्गुणों का प्रसार करेंगे। इसलिए मैंने इन गाँव वालों के सारे संसार में बिखर जाने की प्रार्थना की।

समास विग्रह कीजिए Class 7 प्रश्न 14.
अपने पिता को पुस्तक प्रदर्शनी में जाने एवं पुस्तक क्रय के लिए पत्र लिखिए।

फिलिप छात्रावास
नई दिल्ली

पूजनीय पिताजी
आशा है आप पूर्णतया स्वस्थ होंगे। पिताजी अगले सप्ताह दिल्ली के प्रगति मैदान क्षेत्र में विश्व पुस्तक मेला आयोजित होने जा रहा है जिसमें देश और विदेश के बहुचर्चित संपादकों तथा लेखकों की पुस्तकों की प्रदर्शनी का आयोजन होगा। मैं अपने मित्रों के साथ इस पुस्तक मेले में जाने की योजना बना रहा हूँ और कुछ पुस्तकें भी खरीदना चाहता हूँ जो शिक्षा से संबंधित हैं। आशा है आप मुझे वहाँ जाने की आज्ञा देगें और कुछ पैसों के भेजने का कष्ट करेंगे। माता जी और छोटी बहन को प्यार देना।

आपका आज्ञाकारी पुत्र
कनिष्क

सुगम भारती हिंदी सामान्य कक्षा 7 प्रश्न 15.
निम्नलिखित शब्दों का वाक्यों में प्रयोग कीजिए
अमन, कदम, गगन, सत्य, मार्ग, विश्राम, स्वर्गिक, स्वदेशी, वंचित, परीक्षा, व्यवसाय
उत्तर-
शब्द = वाक्य
अमन = देश में अमन कायम रखना नागरिक का कर्त्तव्य है।
कदम = सच्चाई के मार्ग में हर कदम कठनाई का सामना करना पड़ता है।
गगन = शहर में गगन चुंबी इमारतें हैं।
सत्य = सत्य और असत्य की जंग में हमेशा सत्य की जीत होती है
मार्ग = साधु संत सर्वदा सर्त्य के मार्ग पर चलते हैं।
विश्राम = यात्री यहाँ विश्राम कर सकते हैं।
स्वर्गिक = एक सच्चे और निस्वार्थ मनुष्य को स्वर्गिक संदेश मिलता है।
स्वदेशी = एक भारतीय व्यक्ति को स्वदेशी वस्तुओं का प्रयोग करना चाहिए।
वंचित = तुम अधिक अंक पाने से वंचित रह गए।
परीक्षा = क्या तुम्हारा परीक्षा फल आ चुका है?
व्यवसाय = व्यवसाय में लाभ अनिवार्य गुण है।

MP Board Class 7th Hindi Solutions

MP Board Class 6th Hindi Sugam Bharti Solutions Chapter 9 साहस

In this article, we will share MP Board Class 6th Hindi Solutions Chapter 9 साहस Pdf, Class 6 Hindi Chapter 9, These solutions are solved subject experts from the latest edition books.

MP Board Class 6th Hindi Sugam Bharti Solutions Chapter 9 साहस

MP Board Class 6th Hindi Sugam Bharti Chapter 9 प्रश्न-अभ्यास

वस्तुनिष्ठ प्रश्न

Class 6 Hindi Chapter 9 MP Board प्रश्न 1.

(क) सही जोड़ी बनाइए
1. अतुलनीय – (क) परायण
2. विशाल – (ख) साहस
3. स्वदेश – (ग) शिखर
4. कर्त्तव्य – (घ) भक्ति
उत्तर
1. (ख), 2. (ग), 3. (घ), 4. (क)

MP Board Solutions

Class 6 Hindi Chapter 9 Question Answer प्रश्न (ख)
दिए गए शब्दों में से उपयुक्त शब्द चुनकर रिक्त स्थानों की पूर्ति कीजिए
1. साहसी के हृदय में…….अत्यंत आवश्यक है। (पवित्रता/मलिनता)
2. मध्यम श्रेणी का साहस प्रायः……में पाया जाता (शूरवीरों/कायरों)
3. सर्वोच्च श्रेणी के साहस के लिए…..की बलिष्ठता आवश्यक नहीं है। (सिर-पैर/हाथ-पैर)
4. उच्चकोटि के साहस के लिए…….बनना परमावश्यक है। (स्वार्थ परायण/कर्तव्य परायण)
उत्तर
1. पवित्रता
2. शूरवीरों
3. हाथ-पैर
4. कर्तव्य परायण।

MP Board Class 6th Hindi Sugam Bharti Chapter 9 अति लघु उत्तरीय प्रश्न

Payal Ka Sahas Question Answer प्रश्न 2.
निम्नलिखित प्रश्नों के उत्तर एक-एक वाक्य में दीजिए

(क) किसी देश का इतिहास बनाने में महत्त्वपूर्ण भूमिका किसकी होती है?
उत्तर
किसी देश का इतिहास बनाने में साहस की महत्त्वपूर्ण भूमिका होती है।

(ख) युवक के साहस को प्रशंसा के योग्य क्यों नहीं माना गया?
उत्तर
युवक के साहस को प्रशंसा योग्य इसलिए नहीं माना गया क्योंकि वह क्रोधांध होकर स्वार्थवश साहस दिखाता है।

(ग) कर्त्तव्य ज्ञान शून्य मनुष्य को लेखक ने किसके समान कहा है?
उत्तर
कर्तव्य ज्ञान शून्य मनुष्य को लेखक ने पशु के समान कहा है।

MP Board Solutions

(घ) मौरूदा गांव में किसकी स्मृति में स्तम्भ बनाया
उत्तर
मौरूदा गांव में बुद्धन सिंह जैसे वीरों की स्मृति में स्तम्भ बनाया गया।

(ङ) मध्यम श्रेणी के साहस को ‘निस्तेज-सा’ क्यों कहा गया है।
उत्तर
मध्यम श्रेणी के साहस को ‘निस्तेज-सा इसलिए कहा गया है क्योंकि उसमें ज्ञान की आभा की कभी रहती गया?

MP Board Class 6th Hindi Sugam Bharti Chapter 9 लघु उत्तरीय प्रश्न

MP Board Class 6th Hindi Chapter 9 प्रश्न 3.
निम्नलिखित प्रश्नों के उत्तर तीन से पाँच वाक्यों में दीजिए

(क) साहस किसे कहते हैं? लेखक के अनुसार इसकी कितनी श्रेणियाँ हैं?
उत्तर
साहस का अर्थ है स्वार्थरहित होकर अपने देश और देशवासियों के रक्षार्थ कर्त्तव्य का पालन करना । काम बड़ा हो या छोटा-बिना साहस के नहीं हो सकता। लेखक के अनुसार साहस की कई श्रेणियाँ हैं

  • नीच श्रेणी का साहस-इस प्रकार का साहस जोर और डाकू दिखाते हैं।
  • मध्यम श्रेणी का साहस प्राय-शूरवीरों में पाया जाता है।
  • सर्वोच्च श्रेणी का साहस-ऐसे साहस के लिए कर्तव्यपरायण बनना परमावश्यक है।

(ख) मातृभूमि को संकट में देखकर बुद्धन ने क्या किया?
उत्तर
मातृभूमि को संकट में देखकर बुद्धन का रक्त उबल पड़ा। वह तुरंत अपने एक सौ पचास साथियों को लेकर समय पर अपने देश और राजा की सेवा के लिए मारवाड़ पहुँच गया।

(ग) सर्वोच्च श्रेणी में साहस की विशेषताएँ लिखिए
उत्तर
सर्वोच्च श्रेणी के साहस के लिए हृदय की पवित्रता और उदारता आवश्यक है। चरित्र की दृढ़ता भी उतना ही आवश्यक है। इन गुणों के साथ कर्त्तव्यपरायणता जैसे गुण का होना भी परमावश्यक है।

MP Board Solutions

(घ) साहसी व्यक्ति अपने किन गुणों द्वारा पहचाना जाता है?
उत्तर
साहसी व्यक्ति स्वार्थरहित होता है। वह कर्तव्य परायण होता है। वह कोई भी काम दिखावे के लिए या झूठा यश कमाने के लिए नहीं करता। वह मनुष्य को दुख से बचाने के लिए अपने प्राण तक की परवाह नहीं करता।

(ङ) ‘साहस’ पाठ से आपको क्या प्रेरणा मिलती है?
उत्तर
‘साहस’ पाठ से हमें सही मायने में साहसी बनने की प्रेरणा मिलती है। अपने देश और समाज के लिए कुछ अच्छा करने की प्रेरणा मिलती है।

भाषा की बात

Class 6 Hindi Lesson 9 Question Answer प्रश्न 4.
निम्न शब्दों का शुद्ध उच्चारण कीजिए
भीष्म, निर्भीक, चरित्र, निस्तेज
उत्तर
छात्र स्वयं करें।

विज्ञान भारती कक्षा 6 पाठ 9 प्रश्न 5.
निम्न शब्दों की शुद्ध वर्तनी लिखिए
अभीमन्यु, अतिरिक्त, शक्ती, प्रतयेक
उत्तर
अभिमन्यु, अतिरिक्त, शक्ति, प्रत्येक

Class 6 Subject Hindi Chapter 9 Question Answer प्रश्न 6.
निम्नलिखित मुहावरों का वाक्यों में प्रयोग कीजिएरक्त उबल पड़ना, जान पर खेलना
उत्तर
रक्त उवल पड़ना-मातृभूमि को संकट में देख महारानी लक्ष्मीबाई का रक्त उबल पड़ा। जान पर खेलना-बारह साल का अमर अपनी जान पर खेलकर अपने दोस्त को डाकुओं के चंगुल से बचाया।

महान व्यक्तित्व कक्षा 6 पाठ 9 प्रश्न 7.
निम्नलिखित शब्दों को बहुवचन में बदलिए
कपड़ा, किरण, झरना, आँख, माला, रोटी
उत्तर
कपड़े, किरणें, झरने, आँखें, मालाएँ, रोटियाँ प्रश्न

MP Board Solutions

MP Board Class 6 Hindi Chapter 9 प्रश्न 8.

निम्नलिखित शब्दों की संधि कीजिए
धन + उपार्जन,
सहायता + अर्थ,
धर्म + आत्मा,
सत् + मार्ग,
तत् + लीन, + निः + पक्ष,
निः + तेज
उत्तर
धन + उपार्जन= धनोपार्जन
सहायता + अर्थ= सहायतार्थ
धर्म + आत्मा=धर्मात्मा
सत् + मार्ग=सत्मार्ग
तत् + लीन= तल्लीन
निः + पक्ष=निष्पक्ष
निः + तेज=निस्तेज

MP Board Class 6th Hindi Sugam Bharti प्रसंग सहित व्याख्या

1. सर्वोच्च श्रेणी के साहस के लिए हाथ-पैर की बलिष्ठता आवश्यक नहीं। धन मान इत्यादि का होना भी आवश्यक नहीं। जिन गुणों का होना आवश्यक है, वे हैं-हृदय की पवित्रता तथा उदारता और चरित्र की द्रढ़ता। ऐसे गुणों की प्रेरणा से उत्पन्न हुआ साहस तब तक पूर्णतया प्रशंसनीय नहीं कहा जा सकता जब तक उसमें एक और गुण सम्मिलित न हो। इस गुण का नाम है ‘कर्तव्यपरायणता’।

शब्दार्थ-सर्वाच्च = सबसे ऊँचा। बलिष्ठता=ताकत।

प्रसंग-प्रस्तुत पंक्तियाँ हमारी पाठ्य पुस्तक सुगम भारती-6 में संकलित निबंध ‘साहस’ से उद्धृत है। इसके निबंधकार हैं-गणेश शंकर विद्यार्थी। इसमें साहस की महान्ता का वर्णन किया गया है।

व्याख्या-निबंधकार का कहना है कि साहस जीवन का सबसे बड़ा मंत्र है। उच्च श्रेणी के साहस के लिए यह जरूरी है कि वह व्यक्ति शरीर से ताकतवर हो, बलिष्ठ हो। इसके लिए धन दौलत और मान-सम्मान की भी आवश्यकता नहीं है। इसके लिए उदार और पवित्र हृदय की आवश्यकता है। चरित्र की दृढ़ता भी उतनी है जरूरी है। दृढ़ चरित्र वाला ही उच्च श्रेणी का साहस दिखा सकता है। इन तमाम गुणों के ऊपर है कर्त्तव्यपरायणता, जिसके बिना साहस अधूरा रह जाएगा। कर्तव्य ज्ञान के अभाव में मनुष्य पशु के समान है। इस प्रकार हम कह सकते हैं कि उच्च कोटि के साहस के लिए हदय की पवित्रता, उदारता, चरित्र की दृढ़ता और कर्त्तव्यपरायणता परम आवश्यक है।

MP Board Solutions

2. सत्साहसी ……………………. नहीं देता है।

शब्दार्व-सराहना प्रशंसा करना। आत्मोत्सर्ग= स्वयं का बलिदान करना। बहुधा=प्रायः, अक्सर ।
मदांध = मद | से=अंधा।

प्रसंग-पूर्ववत्

व्याख्या-निबंधकार के अनुसार साहसी व्यक्ति के लिए स्वार्थ-रहित होना अतिआवश्यक है। उसके अंदर एक छिपी हुई शक्ति होती है, जिसके बलपर वह असहाय लोगों का रक्षक बन जाता है। उन्हें बचाने के लिए अपनी जान पर खेल जाता है। जिस समय वह ऐसा काम करता है उस समय वह यह नहीं देखता है या सोचता है कि जिसकी रक्षा वह कर रहा है वह उसका परिचित है या नहीं। जिसके बारे में वह बिल्कुल भी नहीं जानता, उसे भी बचाने में वह पीछे नहीं हटता। अपनी जान की परवाह तो वह जरा भी नहीं करता। इस प्रकार साहसी व्यक्ति स्वार्थ से परे होता है।

MP Board Class 6th Hindi Solutions